कोरोना के बाद से व्यापारियों के चेहरे पर लौटी मुस्कान, अक्षय तृतीया पर हुआ 50 करोड़ से अधिक का कारोबार

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 08:31 AM (IST)

फरीदाबाद : पिछले दो साल से मंदी से जूझ रहे अलग-अलग कारोबार को वैडिंग सीजन की ऑक्सीजन मिल गई है। वैडिंग सीजन में कपड़े, फूलों और कैटरिंग के कारोबार में 80 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है। 
कारोबारियों की माने तो अकेले अक्षय तृतीया पर ही 50 करोड़ से अधिक का कारोबार हुआ था। फूलों की फसल पर जहां पिछले साल किसानों को ट्रैक्टर चलाना पड़ा था। इस बार फूलों की काफी अच्छी डिमांड रही है। शादी के सीजन में रजनीगंधा के फूल सबसे अधिक पसंद किए गए है। मोंगरा और गुलाब की वरमाला शादियों में खूब पसंद की जा रही है। 

फूलों का बाजार करीबन 75 प्रतिशत तक बढ़ा है। जिले में कई ऐसे किसान है। जो फूलों की खेती बढ़े पैमाने पर करते है। रजनीगंधा और मोगरा की खेती ही 300 एकड़ से अधिक जमीन में की जाती है। कोविड के दौरान मंडियों में फूलों की मांग 70 प्रतिशत से भी कम हो गई थी। इस तरह से कपड़ों के मार्केट में भी दोबारा से रोनक लौट आई है। खासकर साडिय़ों की बिक्री करने वाले काफी खुश नजर आ रहे है। उनके अनुसार कोरोना का प्रकोप कम होने के चलते धीरे धीरे नुकसान की भरपाई हो रही है। अकेले अक्षय तृतीया के दिन ही 50 करोड़ से अधिक का कपड़ों का कारोबार हुआ है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static