संयुक्त किसान मोर्चा व प्रशासन की वार्ता विफल, एसपी कार्यालय के बाहर पक्के मोर्चा का ऐलान

punjabkesari.in Monday, Nov 08, 2021 - 09:38 PM (IST)

हांसी (संदीप सैनी): नारनौंद प्रकरण के बाद सोमवार को हांसी में एसपी कार्यालय का घेराव करने पहुंचे किसानों को शाम तक निराशा हाथ लगी। प्रशासन और किसानों के बीच वार्ता विफल रही, जिसके बाद किसानों ने लघु सचिवालय के समक्ष अनिश्चितकालीन पक्का मोर्चा शुरू करने का ऐलान कर दिया। साथ ही नारनौंद थाने में चल रहे धरने को भी हांसी शिफ्ट करने की घोषणा की। मंच से ऐलान किया गया कि कल संयुक्त किसान मोर्चे की मीटिंग के बाद आगामी रणनीति तैयार की जाएगी।

वहीं किसानों द्वारा एसपी ऑफिस के घेराव की चेतावनी के बाद पुलिस की ओर से भी सुरक्षा के लिहाज से थ्री लेयर सिक्योरिटी तैनात की गई है। पिछले चार दिनों से नारनौंद थाने में राज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा व उसके पीए के खिलाफ हत्या प्रयास का मामला दर्ज करने व किसानों पर दर्ज मुकदमें खारिज करने की मांग को लेकर धरना दिया जा रहा था। सोमवार को किसानों की ओर से हांसी एसपी कार्यालय का घेराव करने का ऐलान किया गया था। किसान सुबह 11 बजे लघु सचिवालय के सामने जुटना शुरू हो गए थे।

PunjabKesari, Haryana

इस दौरान किसानों ने लघु सचिवालय के सामने धरना शुरू कर दिया। धरने के दौरान किसान नेताओं ने मौजूदा सरकार पर जमकर हमला किया। दोपहर करीब 1 बजे संयुक्त किसान मोर्चे के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत धरना स्थल पर पहुंचे। नारनौंद विवाद पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सांसद की गाड़ी का सिर्फ शीशा टूटने पर किसानों पर 8 धाराओं में केस दर्ज किया जाता है।अभी तक तो यह भी स्पष्ट नहीं है किसने? पुलिस की लाठी से टूटा या किसानों ने तोड़ा है। वहीं दूसरी तरफ किसान को सांसद व उसके साथ आए लोगों ने मरणासन्न हालत में पहुंचा दिया है। उस मामले में अभी तक किस तक दर्ज नहीं किया गया है। प्रशासन द्वारा एक तरफा की जा रही यह कार्रवाई बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

टिकैत के नेतृत्व में 16 सदस्य कमेटी का गठन किया गया। साथ ही ऐलान किया गया कि यह कमेटी प्रशासन के साथ बातचीत करके जो भी निर्णय लेगी वह सभी को मंजूर होगा। जिसके बाद राकेश टिकैत नारनौंद प्रकरण में घायल कुलदीप राणा का हालचाल जानने के लिए हिसार रवाना हो गए। मंगलवार सुबह राकेश टिकैत धरना स्थल पर पहुंचेंगे।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static