सफाई कर्मचारियों का हल्ला बोल, सरकार के इस फैसले से नाराज हैं प्रदर्शनकारी कर्मचारी

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 02:48 PM (IST)

झज्जर(प्रवीण): हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश के विभिन्न निकायों के अंदर कार्यरत सफाई कर्मचारियों को अपनी नई योजना कौशल विकास केन्द्र में डाले जाने से सफाई कर्मचारी नाराज हो गए है। वह कौशल विकास केन्द्र में जाना नहीं चाहते और अपने आपको नियमित किए जाने की मांग उठा रहे हे।

इसी कड़ी में गुरूवार को प्रदेश की सफाई कर्मचारी यूनियन के आहवान पर झज्जर नगर परिषद में कार्यरत सफाई कर्मियों ने शहरभर में प्रदर्शन किया और सरकार के उक्त फैसले के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान सफाई कर्मचारी अपने हाथों में उलटी झाडू लिए हुए थे।

सफाई कर्मचारियों का कहना था कि सरकार जानबूझ कर उन्हें कौशल विकास केन्द्र में समायोजित करना चाहती है। उन्होंने सरकार के उक्त फैसले का विरोध जताया और चेतावनी दी कि यदि सरकार ने उन पर जबरदस्ती अपने आदेश थोपे तो वह भूख हड़ताल करेंगे और फिर भी सरकार नहीं मानी तो वह बड़ा आंदोलन खड़ा करेंगे।

सफाई कर्मचारियों ने एक बार फिर से अस्थाई कर्मचारियों को नियमित करने,समान काम समान वेतन दिए जाने और कोरोना काल में मृत्यू होने पर कर्मचारी के आश्रितों को पचास लाख रूपए मुआवजा दिए जाने की मांग की।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static