दो लाख रुपये के इनामी मोस्टवांटेड बदमाश कुल्लू मुठभेड़ में गिरफ्तार, दोनों पैरों में लगी गोली

10/16/2020 3:53:50 PM

फरीदाबाद (सूरजमल): अपराध जांच शाखा सेक्टर-30 ने दो लाख रुपये के इनामी मोस्टवांटेड बदमाश नचौली गांव निवासी कुलभूषण उर्फ कुल्लू को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। आरोपी मोस्टवांटेड के दोनों पैर में गोली लगी है। आरोपी काफी समय से फरार चल रहा था। आरोपी को उपचार के लिए बीके अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। यह सूरजकुंड थाना इलाके के कांत इंक्लेव में हुई है। 

पुलिस के मुताबिक, 23 फरवरी को आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर ग्रेटर फरीदाबाद के वल्र्ड स्ट्रीट इलाके में भैंसरावली गांव निवासी अन्नी पर गोलियों की बौछार कर उसकी हत्या कर दी थी। इस मामले में कुलभूषण उर्फ कुल्लू मुख्य आरोपी था। जबकि उसके साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। गैंगवार में आरोपी ने अन्नी की हत्या की थी। आरोपी फ्रेक्चर गैंग का सरगना है। आरोपी अपने गिरोह के बदमाशों के साथ लोगों के हाथ-पैर तोड़कर भय बनाता है। आरोपी पर गत माह तक 50 हजार रुपये का इनाम था। सूचना प्राप्त करने के लिए पुलिस ने इस माह आरोपी पर दो लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। 



आरोपी कुल्लू नचौली गांव फरीदाबाद का रहने वाला है जिसपर हत्या, हत्या के प्रयास, जान से मारने की धमकी, फिरौती व हाथ पैर तोडऩे के करीब 1 दर्जन मुकदमे फरीदाबाद में दर्ज है। इसी साल फरवरी में ग्रेटर फरीदाबाद में हुए अन्नी हत्याकांड मामले में भी कुलभूषण शामिल था, और फरार चल रहा था। बदमाश कुल्लू को सूरजकुंड थाना के एरिया में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया किया गया है।

सहायक पुलिस आयुक्त आदर्शदीप सिंह ने सूचना देते हुए बताया कि गत शाम के समय गुप्त सूत्रों ने सूचना दी थी कि कुलभूषण उर्फ कुल्लू जो अपनी इको स्पोर्ट नीले रंग की गाड़ी में 9 सितंबर को हुई अपने भतीजे अनीष उर्फ अन्नू की हत्या का बदला लेने की भावना से रैकी करने के लिए शूटिंग रेंज के रास्ते सूरजकुंड के एरिया में आने वाला है।

सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस उपायुक्त-अपराध मुकेश मल्होत्रा व सहायक पुलिस आयुक्त-अपराध अनिल कुमार के दिशा निर्देशों पर कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 की टीम व साइबर सेल फरीदाबाद की टीम के सदस्य इंस्पेक्टर विमल राय, इंपेक्टर संदीप मोर, एएसआई अनूप सिंह, हवलदार यशपाल, हवलदार वसीम, हवलदार दिनेश,  सिपाही मनोज, सिपाही योगेश, सिपाही मनजीत ने शूटिंग रेंज वाले रास्ते पर कांत इन्क्लेव के पास नाकाबंदी कर दी। जैसे ही कुलभूषण वहां पहुंचा तो पुलिस टीम को देखकर उसने अपनी गाड़ी कांत इन्क्लेव की तरफ मोड़ दी। पुलिस टीम ने उसका पीछा किया और जब उसे सरेंडर करने के लिया कहा तो आगे रास्ता न मिलने की वजह से गाड़ी से उतरकर जंगल की तरफ भागने लगा और पुलिस पर फायरिंग करने लगा।

पुलिस टीम ने भी जवाबी कार्यवाही करते हुए फायरिंग की जिसमें आरोपी के एक पैर में गोली लगी। गोली लगने के पश्चात भी जब वह नहीं रुका तो उसे रोकने के लिए गोली चलाई गई जो उसके दूसरे पैर में लगी। फायरिंग से बचते समय क्राइम ब्रांच इंचार्ज इंस्पेक्टर विमल को भी घुटने में चोट लगी है। बहादुरी का परिचय देते हुए आरोपी कुल्लू को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।


Shivam

Related News