पंचकूला पर मोदी सरकार फिर मेहरबान, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय शहर में खोलेगा CGHS वेलनेस सेंटर

2021-06-15T11:09:55.01

चंडीगड़(चन्द्र शेखर धरणी): केंद्र की मोदी सरकार ने पंचकूला पर फिर मेहरबानी दिखाई है। पंचकूला के दो प्रमुख धार्मिक स्थान माता मनसा देवी और गुरुद्वारा नाड्डा साहिब को धार्मिक पर्यटन पर्यटन प्रोत्साहन योजना में शामिल करने के बाद अब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय भी पंचकूला को सौगात देने जा रहा है। मंत्रालय ने यहां केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना (सीजीएचएस) के तहत वेलनेस सेंटर खोलने का निर्णय लिया है। इस सेंटर में शहर में रहने वाले सरकारी कर्मचारी मुफ्त में बेहतर क्वालिटी वाला उपचार करवा सकेंगे।

हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता लंबे समय से पंचकूला में सीजीएचएस वेलनेस सेंटर लाने के लिए प्रयासरत थे। इसके लिए उन्होंने देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन को चिट्ठी लिखकर मांग की थी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की हरी झंडी के बाद फाइल केंद्रीय वित्त मंत्रालय में पहुंची तो गुप्ता ने वित्त मंत्री सीतारमण को भी पत्र लिखा। दोनों मंत्रालयों की मंजूरी मिलने के बाद पंचकूला में सीजीएचएस वेलनेस सेंटर खुलने का रास्ता साफ हो गया है।

बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर में 16 सीजीएचएस वेलनेस सेंटर खोलने का निर्णय लिया है। इनमें से 2 सेंटर हरियाणा के पंचकूला और सोनीपत शहरों में स्थापित होंगे। पंचकूला में बड़ी संख्या में सरकारी कर्मचारी रहते हैं। ये कर्मचारी लंबे समय से जितेंद्र महाजन के नेतृत्व में विस अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता से शहर में सीजीएचएस वेलनेस सेंटर खोलने की मांग कर रहे थे। इसके चलते ही गुप्ता इस बाबत लगातार केंद्र सरकार से यहां केंद्र खोलने का आग्रह कर रहे थे। अब केंद्र सरकार ने उनकी मांग मान ली है। इस सेंटर में चिकित्सक, नर्सिंग स्टाफ और स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े दूसरे कर्मचारी नियुक्त किए जाएंगे। इसकी स्थापना के लिए जल्द ही जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर योजना बनाएगा।

गौरतलब है कि इससे पहले केंद्र सरकार ने माता मनसा देवी और नाड्डा साहिब के विकास और सौंदर्यीकरण के लिए केंद्र सरकार ने 49 करोड़ 51 लाख 70 हजार रुपये का बजट मंजूर किया था। पंचकूला में 267 करोड़ की लागत से 20 एकड़ में बनने वाला अखिल भारतीय आयुर्वेद, योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा  संस्थान भी मंजूर हो चुका है। 150 करोड़ रुपये की लागत से राष्ट्रीाय फैशन तकनीक संस्था न और 28 करोड़ की लागत वाले बहु तकनीकी एवं कौशल विकास केंद्र भी यहां बनाए जा चुके हैं। शहर में संस्कृात महाविद्यायल भी जल्द बनकर तैयार हो जाएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static