उज्बेकिस्तान की महिला रास्ता भटकी, पुलिस ने दूतावास को सौंपा

punjabkesari.in Tuesday, Jan 07, 2020 - 12:17 PM (IST)

राईः भारत भ्रमण पर आई उज्बेकिस्तान की एक महिला रास्ता भटक कर गांव कुंडली पहुंच गई। भाषा की समझ नहीं होने के चलते वह अपने बारे में कोई जानकारी नहीं दे पा रही थी। जिस पर ग्रामीणों ने मामले से कुंडली थाना पुलिस को अवगत कराया। जिस पर पुलिस टीम ने उन्हें थाने में ले आई और उनका पासपोर्ट देखने के बाद उन्हें भारतीय दूतावास में भिजवा दिया। जिससे उज्बेकिस्तान की महिला की परेशानी दूर हो सकी।

सोमवार को रास्ता भटक कर गांव बारोटा में पहुंची विदेशी महिला उस समय परेशान हो गई जब उन्हें रास्ते के बारे में कोई जानकारी नहीं दे पा रहा था। उसने लोगों से बातचीत का प्रयास किया, लेकिन उनकी भाषा किसी की समझ में नहीं आ रही थी। जिससे महिला काफी परेशान हो चुकी थी। इस पर ग्रामीणों ने कुंडली थाना पुलिस को अवगत कराया। जिस पर महिला पुलिस के साथ कुंडली पुलिस टीम गांव में पहुंची और विदेशी महिला की मदद का प्रयास किया, लेकिन भाषाई दिक्कत के कारण पुलिस भी उसकी कोई मदद नहीं कर पा रही थी।

इस पर पुलिस ने जब महिला से पासपोर्ट देने को कहा तो उसने अपना पासपोर्ट निकालकर पुलिस टीम को दिया। जिस पर पुलिस को पता लगा कि वह उज्बेकिस्तान की रहने वाली शेखनाज (28) है। वह भारत में टूरिस्ट वीजा पर आई हुई थी। वह बारोटा कैसे पहुंची इसके बारे में महिला कोई जानकारी नहीं दे सकी। जिस पर पुलिस ने महिला को दिल्ली स्थित भारतीय दूतावास में भेज दिया।

सितंबर, 2019 में समाप्त हो चुका है वीजा 
पुलिस का कहना है कि महिला के पास से पासपोर्ट के साथ जो टूरिस्ट वीजा मिला है वह सितंबर, 2019 में समाप्त हो चुका है। महिला कब से भटक रही थी और कब लापता हुई थी। इसकी जानकारी दूतावास की टीम द्वारा ली जाएगी। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static