हरियाणा सचिवालय में कार्यरत कर्मचारियों के लगाया गया वैक्सीनेशन कैंप, 1 हफ्ते तक लगेगा टीका

2021-06-12T11:17:09.467

चंडीगढ़( चंद्रशेखर धरणी ): प्रदेश के अंतिम छोर तक के हर व्यक्ति को सुरक्षा का घेरा प्रदान करने के लिए हरियाणा सरकार वैक्सीनेशन को लेकर युद्ध स्तर पर काम कर रही है। हरियाणा सरकार के वैक्सीनेशन अभियान के तहत जगह-जगह कैंप लगाए जा रहे हैं। कोरोना की मार से कोई भी वर्ग-कोई भी क्षेत्र अछूता नहीं रहा है। बड़ी संख्या में सरकारी कर्मचारी भी न केवल कोरोना पॉजिटिव पाए गए बल्कि काफी कर्मचारियों को जान तक गंवानी पड़ी है।

इसी तरह हरियाणा सचिवालय में कार्यरत कर्मचारी भी पहली बार दूसरी वेब में बड़ी संख्या में पीड़ित पाए गए थे। लेकिन समय के अभाव के चलते 18 से 44 वर्ष की उम्र के बहुत से कर्मचारी अभी तक वैक्सीन की पहली डोज भी नहीं लगवा पाए थे।जिसके चलते हरियाणा सरकार ने हरियाणा सचिवालय में वैक्सीनेशन कैंप लगाने की व्यवस्था की है। जिससे सचिवालय के सभी अधिकारी व कर्मचारी वैक्सीनेट हो पाए। यह कैंप अगले सप्ताह तक चलेगा। पंजाब केसरी ने इस विषय पर हरियाणा सचिवालय के एक अधिकारी विवेक स्वामी से बातचीत की। जिसमें उन्होंने बताया कि कैंप लगाने के लिए सरकार से स्पेशल रिक्वेस्ट की गई थी और कर्मचारियों में काफी जागरूकता भी देखी जा रही है। कर्मचारी बढ़-चढ़कर वैक्सीन लगवा रहे हैं।

पंक्ति में बैठे पावर मिनिस्ट्री स्टाफ में कार्यरत जतिन ने बताया कि वैक्सीन लगवाने की उनकी काफी दिन से इच्छा थी। लेकिन कुछ कारणों के चलते वह वैक्सीन लगवाने के लिए नहीं जा पा रहे थे। सचिवालय में लगे इस कैंप से सभी लोगों को बहुत फायदा होगा। कैंप में वैक्सीनेशन प्रक्रिया से पहले रजिस्ट्रेशन किया गया और वैक्सीनेशन के बाद आधे घंटे तक कर्मचारियों को वहीं विश्राम करने के लिए बिठाया गया।  कुछ समय पहले जहां तरह-तरह की अफवाहों के बाद लोगों मे वैक्सीन को लेकर काफी डर और भय का माहौल था।

वहीं कैंपों में कतारों में बैठे लोगों को देखकर यह तो साफ है कि लोगों में पहले जितना डर था अब उतनी ही जागरूकता आ चुकी है। एक और जहां आमजन वैक्सीनेशन के लिए आगे आ रहे हैं। वहीं सरकारी लोबी द्वारा बढ़-चढ़कर वैक्सीन लगवाए जाने से प्रदेश में एक संदेश भी जाएगा। हालांकि सरकार ने वैक्सीन को पूर्ण रूप से सुरक्षित बताने का दावा समय-समय पर किया। लेकिन समाज में फैली अफवाहें इस पर लंबे समय तक हावी रही। विकृत मानसिकता के लोगों द्वारा अपनी राजनीति चमकाने के लिए घटिया बयानबाजी दी जाती रही। लेकिन पढ़े लिखे समाज के आगे आने से कहीं-न-कहीं इस प्रकार की विचारधारा पर प्रश्नचिन्ह लगना तय है।


(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static