हिंदुस्तान के वैज्ञानिकों को सैल्यूट, वैक्सीन बनाकर किया देश का नाम रोशन: अनिल विज

1/17/2021 1:23:52 AM

चंडीगढ़ (धरणी): हिंदुस्तान के वैज्ञानिकों जिन्होंने वैक्सीन बनाकर वो काम कर दिखाया है, जो बड़े-बड़े देश नहीं कर पाए हैं देश के उन वैज्ञानिकों और डॉक्टरों को मैं दिल से सैल्यूट करता हूं। यह बात हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कही। उन्होंने अंबाला छावनी सिविल अस्पताल से कोरोना वैक्सीनेशन की शुरूआत की। इस अभियान को एतिहासिक करार देते हुए उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की टीम को बधाई दी।

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि हिंदुस्तान के लिए आज का दिन बहुत ही शुभ दिन है। लगभग एक साल से कोरोना के खिलाफ देश मे लड़ाई लड़ी जा रही है। बिना किसी प्रोटेक्शन के इस साल के दौरान कोरोना वारियर्स डॉक्टरों, म्यूनिसिपल स्टाफ, पुलिस विभाग और अन्य लोगों ने अपनी जान हथेली पर रख कर इसके लिए लड़ाई लड़ी है और बहुत दिनों से उम्मीद की जा रही थी कि कोई वैक्सीन आएगी जो लोगों को प्रोटेक्शन प्रदान करेगी। 

विज ने कहा कि ये भारत देश के लिए गर्व की बात है कि देश मे ही निर्मित दो वैक्सीन कोवीशील्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी मिली और आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधिवत पूरे देश मे इसको लगाने का काम आरंभ किया है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा हरियाणा में भी हमें 241500 डोज कोविशील्ड की मिली हैं और 20000 डोज कोवैक्सीन की मिली हैं। उन्होंने बताया कि लगभग एक लाख 30 हजार लोगों को हम इंजैक्शन लगाएंगे, जिसमे हेल्थ वर्कर्स, पुलिस, सफाई कर्मचारी इनको पहले इंजेक्शन लगाए जाएंगे। 

विज ने बताया कि कुल 63 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी जिसमे 50 साल से उपर की आयु के लोगों को भी लगाई जाएगी और 50 साल से कम उम्र के लोग जिनमे कोई गंभीर बीमारी है उनको भी बाद मे लगाई जाएगी। आज हरियाणा मे भी ये कार्यक्रम आरंभ हुआ है जिसके तहत हर सेंटर मे 100 लोगों को ये वैक्सीन लगाई जाएगी और उसके बाद लगातार ये काम चलता रहेगा। 

विज ने कहा कि एक महत्वपूर्ण बात हर किसी को याद रखनी चाहिए कि एक डोज लगाने से अपने आप को सुरक्षित न समझें, इसकी दो डोज लगेगीं। पहली डोज के 28 दिन के बाद दूसरी डोज लगाई जाएगी और उसके 14 दिन के बाद यानि 42 दिन बाद प्रोटेक्शन मिलेगी। उन्होंने जनता से अपील की कि 42 दिन तक लोगों ने प्रोटेक्शन के जो तरीके पहले से अपनाते आ रहे हैं उन्हें जारी रखना है। उन्होंने कहा कि निरंतर मास्क लगाना है, जो पीपीई किट लगाते हैं उन्हें पीपीई किट लगानी है और दो गज की दूरी का पालन करना है। अगर इसमे चूक हो गई तो नुकसान हो सकता है। इसलिए टीका लगवाने वाले को 42 दिन तक सावधान रहना पड़ेगा।


Shivam

Related News