पोल्ट्री फार्म संचालक ने 15 हजार मरे मुर्गे खुले में फैंके, बना बीमारी फैलने का डर

3/25/2020 1:33:42 PM

शाहाबाद मारकंडा (रणजीत) : मंगलवार प्रात: शाहाबाद के निकटवर्ती गांव छपरी में हजारों की तादाद में मरे मुर्गे खुले में पड़े देखकर गांववासी भड़क गए और पोल्ट्री फार्म बंद करवाने की मांग को लेकर नारेबाजी की। मार्कीट कमेटी के वाइस चेयरमैन केहर सैनी, कुलदीप सैनी, रामकरण, सौरण, राजिंद्र सैनी, हरकेश कश्यप ने बताया कि पोल्ट्री फार्म के संचालक ने लगभग 15 हजार मरे मुर्गे खुले में फैंक दिए हैं जिससे बदबू का आलम है।

उन्होंने कहा कि मरे मुर्गे कुत्ते उठाकर गांव में ला रहे हैं तथा खाकर खुद भी मौत का शिकार हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि पोल्ट्री फार्म संचालक ने सैंकड़ों मुर्गे भूमि में दबाए थे लेकिन वह भी गर्मी की वजह से भूमि फाड़कर बाहर निकल आए हैं। उन्होंने कहा कि अनेक कुत्ते भी भूमि में दबाए गए हैं। उन्होंने आशंका जाहिर की है कि लाखों की तादाद में मुर्गे चारा न मिलने की वजह से पोल्ट्री फार्म के अंदर मरे हो सकते हैं जिससे और भी ज्यादा बीमारी फैलने का खतरा है। उन्होंने कहा कि एक पोल्ट्री फार्म से उत्पन्न होने वाली भयंकर दुर्गंध के कारण ग्रामीण परेशान हैं, खतरनाक प्रदूषण फैल रहा है।

इस पोल्ट्री फार्म की आंतरिक कार्यशैली से छपरी के साथ-साथ संलग्र डेरों व गांवों में कोरोना वायरस, डेंगू, स्वाइन फ्लू जैसे रोगों के फैलने की आशंका बनी है व ऐसी संभावनाओं से इन्कार नहीं किया जा सकता। टाइम बे-टाइम यह गंदा दूषित पानी छोड़ देते हैं तथा मरे हुए मुर्गे-मुॢगयों को बाहर फैंक देते हैं जिन्हें आवारा घूमते कुत्ते आदि जानवर उन्हें उठाकर ले जाते हैं और यह कुत्ते जहरीले हो रहे हैं तथा ग्रामवासियों के लिए खतरा व परेशानी का कारण बने हैं। उन्होंने कहा कि अभी लॉकडाऊन चल रहा है और इसके तुरंत बाद सभी ग्रामीण गृहमंत्री से भेंट कर इस पोल्ट्री फार्म को बंद करने की मांग करेंगे।


Isha

Related News