1 हजार करोड़ के टेंडर फाइनल स्टेज पर : राव इंद्रजीत

punjabkesari.in Sunday, Dec 05, 2021 - 08:04 PM (IST)


गुडग़ांव, (ब्यूरो): दिल्ली जयपुर नेशनल हाईवे का सफर आसान बनाने व यातायात का दबाव कम करने के लिए मानेसर में एलिवेटेड फ्लाईओवर व बिलासपुर चौक पर फ्लाईओवर की सभी औपचारिकताएं अंतिम चरण में है। गुरुग्राम-जयपुर तक नेशनल हाईवे 48 की दशा सुधारने के लिए करीब 1000 करोड़ रुपए की योजनाओं को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इन योजनाओं का शिलान्यास केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जनवरी तक में करेंगे।

जयपुर नेशनल हाईवे रिर्कापेटिंग के लिए 459 करोड रुपए का बजट केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्रालय की ओर से मंजूर किया गया है। केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि संसद में केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से उनकी मुलाकात के दौरान एनएचएआई के अधिकारियों ने उन्हें यह जानकारी दी है। एनएचएआई के मेंबर मनोज अग्रवाल ने उन्हें बताया कि इन योजनाओं के टेंडर को दिसंबर माह के अंत तक अंतिम रूप दे दिया जाएगा और जनवरी में केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री से इन योजनाओं का शिलान्यास करवाया जाएगा। इन योजनाओं के टेंडर फाइनल होने के बाद फाइनेंसियल बिड को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने बताया कि दिल्ली-जयपुर नेशनल हाईवे स्थित बिलासपुर चौक व मानेसर में यातायात का काफी दबाव पिछले वर्षों से है। अनेकों बार सडक़ दुर्घटनाएं भी हो चुकी है। पिछले वर्षों से वे मानेसर में एलिवेटेड रोड व बिलासपुर चौक पर फ्लाईओवर बनाने की मांग को लेकर लगातार केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री के संपर्क में थे। हाईवे का निर्माण करने वाली कंपनी से विवाद के चलते योजनाओं के निर्माण में देरी हुई। शनिवार को राष्ट्रीय राजमार्ग अधिकारियों ने केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत को बताया कि बिलासपुर चौक करीब 23 करोड़ की लागत से मानेसर एलिवेटेड फ्लाईओवर करीब 90 करोड़ की लागत से व बावल चौक 23 करोड़ से तैयार होगा। कार्यों के टेंडर को दिसंबर  के अंतिम सप्ताह तक अंतिम रूप दे दिया जाएगा। राव ने कहां की इन योजनाओं के पूरा होने के बाद दिल्ली जयपुर के सफर को और भी आसान बनाया जा सकेगा।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Gaurav Tiwari

Related News

Recommended News

static