खेल सेंटर स्टोर में 10 लाख 19 हजार का सामान गायब, अधिकारियों पर गिर सकती गाज

9/16/2020 12:05:43 PM

करनाल(क.सी.आर्य): प्रदेश के खिलाड़ी ओलंपिक, एशियन खेल से लेकर खेलो इंडिया तक हरियाणा का नाम रोशन कर रहे हैं, लेकिन गड़बड़ी के चलते खिलाड़ियों को खेल का सामान पूरा नहीं मिल रहा है। अपने लेवल पर खिलाड़ी सामान जुटाते हैं। करनाल में बने प्रदेश के सेंटर स्टोर में भारी गड़बड़ी मिली है। खेल विभाग ने यहां खिलाड़ियों के लिए सामान तो भेजा, लेकिन उसकी आगे सप्लाई नहीं हुई। 2 साल में 10 लाख 19 हजार के सामान का घोटाला हो गया है। खेल मंत्री संदीप सिंह ने इसकी खुद जांच करवाई है। 2 साल के ऑडिट में यह गड़बड़ी पकड़ी है।

खेल राज्य मंत्री ने छह मार्च को प्रदेश के सेंटर स्टोर में कर्ण स्टेडियम करनाल में शहर के लोगों द्वारा खेल सामान में खड़बड़ी की शिकायत दी जाने को लेकर औचक तरीके से निरक्षण किया था। उस दौरान खेल मंत्री ने सेंटर स्टोर के रजिस्ट्रर में खाफी खामियां पाई गई थी। जिसके चलते खेल मंत्री ने तत्कालीन स्टोर कीपर व डीएसओ को संस्पेड किया गया था। जिसके बाद महालेखाकार हरियाणा द्वारा 2018 अप्रैल  से 2020 मार्च तक खेल सामान का स्टॉक जांचा गया जो 8 जून से 10 जुलाई तक आडिट किया गया।

आॅडिट पार्टी द्वारा पैरा 9 के अंतर्गत 10 लाख 19 हजार रुपए की राशि का केंद्रीय स्टॉक रजिस्ट्रर करनाल में कम सामान को दिखाया गया। कम दिखाए गए सामान को लेकर जिला खेल अधिकारी को निर्देश दिए गए है कि एक सप्ताह के अंदर इस मामले में अपनी जवाब मांगा गया है। जिला खेल विभाग अपनी पूरानी खामियों को दबाए बैठा है ताकि किसी भी बाहरी व्यक्ति को खेल सामान के घोटाले का पता ना चले। खिलाड़ियों के खेल सामान को लेकर बड़ी गडबड़ी पाया जाना  जिला खेल विभाग बड़ी लापरवाही है।

 

 

 

 

 


Isha

Related News