जियो कंपनी का टावर लगाने का झांसा देकर लोगों से पैसे ठगने वाले गिरोह के 6 सदस्य गिरफ्तार

10/20/2020 6:37:19 PM

फरीदाबाद (सूरजमल): जियो कंपनी का टावर लगाने का झांसा देकर आमजन से पैसे ठगने वाले गिरोह के छह सदस्यों को नाथुपुर गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया है। आरोपितों ने यहां के सेक्टर-3 निवासी दरबारी लाल से करीब 30 हजार 800 रुपये की धोखाधड़ी की थी। 14 अक्टूबर को धोखाधड़ी की विभिन्न धाराओं के तहत साइबर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। 

आरोपितों में गुरुग्राम के ब्लाक एस नाथुपुर क्षेत्र के निवासी तरुण, नवीन कुमार, दीपक, तुकमीरपुर दिल्ली निवासी आशीष, गांव टिकोला कलां, थाना मंगलौर, जिला हरिद्वार, उत्तराखंड निवासी विनीत और अमित हैं। आरोपितों से 28 हजार रुपये, लैपटाप, 9 मोबाइल, सिम व एटीएम कार्ड बरामद किए हैं। 

पुलिस प्रवक्ता सहायक पुलिस आयुक्त आदर्शदीप सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में इसकी जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी विभिन्न समाचार पत्रों मे रिलांयस जियो कंपनी का 4जी/5जी टावर लगाने का विज्ञापन देते थे, जिसमें वह एडवांस 90 लाख व प्रतिमाह 80 हजार रुपए किराया व टावर लगवाने वाले व्यक्ति के परिवार के 2 सदस्यो को नौकरी देने व एक मोटर साइकिल देने दावा करते थे। विज्ञापन पढ़कर अपने प्लाट/घरों की छत पर टावर लगवाने के इच्छुक लोग उनके दिए मोबाइल नंबर पर संपर्क करते थे।

आरोपियों ने टेलीकाम मिनिस्ट्री से एनओसी, जीएसटी, सैंक्शन लैटर वगैरह के नाम पर लोगों से अपने अकांउट में पैसे हासिल कर लेते थे और उनसे तब तक भिन्न-भिन्न बातों का झांसा देकर पैसे ऐंठते रहते, जब तक वह व्यक्ति उनकी चाल बारे समझ नहीं जाता। 

उन्होंने कहा कि इसी तरह आरोपियों ने अपने आप को रिलांयस जियो टेलीकाम कंपनी का अफसर बनकर पीड़ित दरवारी लाल को अपने झांसे में लिया और उससे धोखाधड़ी से 30,800 रुपए हासिल कर लिए। जब पीड़ित को उनके द्वारा की जा रही जालसाजी बारे शक हुआ तो उसने टेलीकाम कंपनी को संपर्क किया, जहां से उसे पता चला कि वह ठगी का शिकार हुआ है। 

इसके उपरान्त शिकायतकर्ता दरबारी लाल ने इसकी शिकायत पुलिस आयुक्त कार्यालय फरीदाबाद में की, जिस पर थाना साइबर अपराध में मामला दर्ज किया गया। आरोपियों के कब्जे से लैपटाप, 9 मोबाइल फोन 28 हजार रुपए नगद, सिम कार्ड वा एटीएम कार्ड बरामद किए गए। आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।


Shivam

Related News