पूरी तरह भ्रष्टाचार में डूब चुकी है सरकार, विपक्ष ने मिलकर प्रदेश को कमजोर किया: अभय चौटाला

2021-06-18T00:04:01.39

चंडीगढ़ (धरणी): इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने वीरवार को इनेलो कार्यालय पहुंच कर कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों को संबोधित किया। इस अवसर पर इनेलो प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी, पूर्व विधायक दिलबाग सिंह, पूर्व विधायक श्याम सिंह राणा, वरिष्ठ इनेलो नेता प्रकाश भारती, नेपाल सिंह इनेलो जिला अध्यक्ष चरण सिंह जटपुरा सहित बड़ी संख्या में इनेलो कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी उपस्थित थे।

पत्रकारों को संबोधित करते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि मौजूदा भाजपा जाजपा गठबंधन सरकार के गलत निर्णय के कारण प्रदेश में 1500 से अधिक प्राइमरी स्कूल बंद कर दिए गए जिससे लाखों बच्चे पढ़ाई से वंचित हो गए। उन्होंने बताया कि हरियाणा प्रदेश में 80 फीसदी से ज्यादा किसान 2 एकड़ से कम भूमि के मालिक हैं और उनके बच्चे प्राइमरी स्कूलों में ही शिक्षा ग्रहण करते हैं स्कूल बंद होने के कारण ऐसे बच्चे पढ़ाई से वंचित हो जाएंगे। 

हरियाणा शिक्षा बोर्ड द्वारा दसवीं का रिजल्ट घोषित कर 100 फीसदी विद्यार्थियों को पास करने के निर्णय पर सवाल उठाते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि यह सरासर गलत निर्णय है। उन्होंने कहा कि अगर कोरोना महामारी में चुनाव हो सकते हैं तो बच्चों के पेपर क्यों नहीं हो सकते। चाहे ऑनलाइन पेपर होते या ऑफलाइन, बच्चों के इम्तिहान अवश्य होने चाहिए थे। सरकार के इस फैसले से मेरिट में आने वाले बच्चों का काफी नुकसान हुआ है जोकि उन्हें काफी आगे तक भुगतना पड़ेगा क्योंकि दसवीं के रिजल्ट का काफी हद तक विद्यार्थियों की आगे की पढ़ाई पर प्रभाव पड़ता है।

इनेलो प्रधान महासचिव ने भाजपा गठबंधन सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि रोजगार देने का वायदा कर सत्ता मिलने के पश्चात रोजगार के नाम पर प्रदेश के भोले-भाले नौजवानों को लूटने का काम कर रही है। जिसका ताजा उदाहरण गत दिवस 400 सब इंस्पेक्टरों की भर्ती प्रक्रिया रद्द कर देना है। उन्होंने कहा कि सब इंस्पेक्टरों की भर्ती प्रक्रिया रद्द कर देने से हजारों नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ करने का काम प्रदेश सरकार ने किया है। अभय सिंह ने कहा कि अब जब दोबारा उपरोक्त पदों की भर्ती प्रक्रिया आरंभ होगी तो काफी नौजवान ओवरेज हो चुके होंगे, रोजगार देने के नाम पर सरकार रोजगार छीनने का काम कर रही है।

कांग्रेस पर प्रहार करते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आपस की प्रतिस्पर्धा में ही व्यस्त हैं। सरकार की गलत नीतियों का ना तो विपक्ष विधानसभा में सही ढंग से विरोध कर रहा है और ना ही सडक़ों पर। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के हालात ऐसे हैं कि सत्ता पक्ष और विपक्ष मिलकर प्रदेश को लूटने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का एकमात्र लक्ष्य अखबारों में बड़े.बड़े बयान छपवाना है प्रदेश की जनता सरकार की गलत नीतियों के कारण किस हालात से गुजर रही है विपक्ष को इस से कोई लेना-देना नहीं।

किसान आंदोलन पर बात करते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सरकार को तुरंत किसानों की बात मानकर तीनों कृषि कानूनों को तुरंत रद्द कर देना चाहिए ताकि महीनों से धरने पर बैठे किसान आंदोलन समाप्त कर अपने घरों को जा सके उन्होंने कहा कि इंडियन नेशनल लोकदल हमेशा ही किसानों के साथ रही है। जन नायक चौधरी देवीलाल ने किसानों के हितों के लिए कई बार बड़े से बड़े पद को भी ठोकर मारी है।

कोरोना संक्रमण पर बात करते हुए इनेलो प्रधान महासचिव ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार पूरी तरह से फेल रही है उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा कोरोना संक्रमितों  के लिए बनाए गए अस्पतालों में भी करोड़ों का भ्रष्टाचार हुआ है। लॉकडाउन में सत्ता में बैठे लोगों द्वारा शराब और रजिस्ट्री घोटाला कर करोड़ों रुपए डकार लिए गए। कई बार पुख्ता प्रमाण देने पर भी इन लोगों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई जिससे कि यह स्पष्ट होता है कि प्रदेश में मुख्यमंत्री से लेकर सरकार के सारे मंत्री एवं विधायक पूरी तरह से भ्रष्टाचार में डूब चुके हैं। इन का मकसद केवल भ्रष्टाचार कर करोड़ों रुपए कमाना है, प्रदेशवासियों की दिक्कतों परेशानियों से इनका कोई सरोकार नहीं है।

इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा गठबंधन सरकार के 600 दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री स्वयं अपनी छाती ठोक रहे थे जबकि सच्चाई ये है कि 600 दिनों में भाजपा गठबंधन सरकार ने प्रदेश को बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार, अपराध और प्रदेश पर कर्जा बढ़ाया है।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Recommended News

static