आढ़ती ने सुनाई फसल की पेमेंट की समस्या तो ओपी चौटाला ने याद करवाया ''इनेलो राज''

10/20/2020 12:22:51 AM

कुरुक्षेत्र (रणदीप रोड़): पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला सोमवार को पिपली अनाज मंडी में किसानों व आढ़तियों की समस्याएं सुनने के लिए पहुंचे। इस दौरान एक आढ़ती ने उनसे कहा कि ऐसा जुगाड़ करवा दो कि धान की 25 दिनों से अटकी पेमेंट हो जाए। जिस पर चौटाला मुस्कुराए और पूछा इनेलो के राज में कभी इतने दिन तक किसानों की फसल की पेमेंट लटकी थी? उन्होंने कहा कि इनेलो के राज में धान का भाव भी पूरा मिलता था। उन्होंने मौजूद आढ़तियों व किसानों से अपील की कि वे आपसी भाईचारा कायम रखते हुए इनेलो के झंडे के नीचे एकजुट हो जाएं, इनेलो का राज आने पर उनकी सभी समस्याओं का हल हो जाएगा। 

आढ़तियों और किसानों ने चौटाला को बताया कि पिछले 25 दिन से सरकार की ओर से धान खरीद की कोई पेमेंट नही आई है, जबकि सरकार का दावा 72 घंटे में पेमेंट करने का था। किसान को फसल के पैसे नहीं मिले, आढ़तियों को कमीशन नहीं मिली और मजदूरों को लेबर नहीं मिली, जिस कारण रोटी के लाले पड़ गए हैं। 

आढ़ति बनारसी दास ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर वायदा खिलाफी का आरोप लगाया और चौटाला को बताया कि जब भी आढ़तियों का प्रतिनिधिमंडल सीएम से मिलने गया तो मुख्यमंत्री ने सभी मांगे पूरी करने की घोषणा की, लेकिन 15 मिनट पश्चात ही मुख्यमंत्री अपने वायदे से मुकर जाते हैं। चौटाला ने समस्याएं सुनने के पश्चात कहा कि इन समस्याओं से निजात पाने का एक ही रास्ता है कि सभी आपसी भाईचारा कायम रखते हुए इनेलो के झंडे के नीचे एकजुट हो जाएं। 

बरोदा उपचुनाव को लेकर चौटाला ने कहा कि इनेलो का उम्मीदवार अन्य सभी उम्मीदवारों से बेहतर है। उपचुनाव में इनेलो की विजय के पश्चात प्रदेश की राजनीति में भगदड़ मच जाएगी। चौटाला ने कहा कि यह सरकार अपने ही बोझ में टूट जाएगी, हरियाणा में मध्यवर्ती चुनाव होंगें। उन्होंने कहा कि इन मध्यवर्ती चुनाव में कमेरा वर्ग एकजुट होकर इनेलो की सरकार बनाए और इनेलो की सरकार बनने पर सभी समस्याओं का हल किया जाएगा। 

चौटाला ने कहा कि यह पहली सरकार है, जिसमें सत्ता का सुख भोगने वाले लोग पार्टी छोड़कर इनेलो में शामिल हो रहे हैं। बोर्डों के चेयरमैन अपने पद छोड़कर भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि बरोदा चुनाव परिणाम के पश्चात गठबंधन सरकार के कई विधायक भाग जाएंगे। उन्होंने कहा कि आज किसाान, आढ़ती सहित हर वर्ग सरकार से दुखी है। 


Shivam

Related News