किसानों के हितों की बलि देकर चहेती कंपनियों को फायदा पहुंचाने का प्रयास कर रही केंद्र सरकार: शैलजा

punjabkesari.in Monday, Sep 14, 2020 - 08:27 AM (IST)

चंडीगढ़ (बंसल) : कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कु. शैलजा ने केंद्र की भाजपा सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार लगातार किसानों के हितों की बलि लेकर चहेती कंपनियों को फायदा पहुंचाने की कोशिश कर रही है। किसानों के खिलाफ तीन-तीन अध्यादेश पारित करने के बाद अब संसद में कीटनाशक प्रबंधन विधेयक (पेस्टीसाइड्स मैनेजमैंट बिल-2020) लाकर फिर किसानों और छोटे बिजनैसमैन को बर्बाद करने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार 14 सितम्बर से शुरू होने वाले संसद सत्र में बिल को पास करवाने की कोशिश कर रही है, लेकिन न पहले किसानों से बात की गई और न ही किसान संगठनों से। उन्होंने मांग की कि बिल पर पूरी बहस करवाएं और नए सुझावों को भी शामिल किया जाए। साथ ही बिल को लेकर किसानों और छोटे पेस्टीसाइड्स निर्माताओं की आशंकाओं को भी दूर कर और उनके मुताबिक बदलाव किया जाए। 

शैलजा ने कहा कि वर्ष 2018 में बनी अशोक दलवई कमेटी ने घरेलू उद्योगों को बढ़ावा देने और एग्री प्रोडक्ट्स के निर्यात को बढ़ावा देने की जो सिफारिश की थी, वह इस बिल से पूरी तरह गायब है और उसकी जगह आयात को बढ़ावा मिलता दिखाई दे रहा है। वर्तमान बिल में शामिल प्रावधानों से किसान पर और आर्थिक मार पड़ेगी।

उन्होंने आरोप लगाया कि कपास में प्रयोग होने वाला आयातित कीटनाशक कुछ वक्त पहले तक 10 हजार रुपए प्रति किलो तक मिलता था, लेकिन देश में उत्पादन के साथ ही गिरकर 3500 रुपए प्रति किलो तक हो गया। निर्यात को बढ़ावा देने वाले बिल के पास होने पर फिर कीटनाशक महंगे हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस सरकार की किसान विरोधी नीतियों का हर स्तर पर विरोध करेगी चाहे वो सड़क पर उतर कर संघर्ष करना हो या संसद विधानसभा में विरोध करना हो।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Manisha rana

Related News

Recommended News

static