हरियाणा में अनलॉक के बाद 18 गुना तक बढ़ा कोरोना संक्रमण, 50% केस अकेले 3 जिलों में मिले

8/1/2020 8:37:17 PM

चंडीगढ़ (संजय अरोड़ा): हरियाणा में लॉकडाउन के 69 दिनों की तुलना में अनलॉक के 62 दिनों में कोरोना कहर बनकर टूटा है। लॉकडाउन की अवधि में कोरोना संक्रमण के कुल 2091 मामले सामने आए, जबकि अनलॉक होने के बाद 1 जून से 31 जुलाई तक कोरोना के 32,874 नए केस सामने आ गए हैं। 

लॉकडाउन में हर रोज औसतन 30 केस आ रहे थे, जबकि अनलॉक में हर रोज 563 केस सामने आ रहे हैं। लॉकडाउन में जहां 20 लोगों की मौत हुई तो अनलॉक में अब तक 401 लोगों की मौत हो गई है।गौरतलब है कि हरियाणा के गुरुग्राम में 17 मार्च को कोरोना का पहला मामला सामने आया था। 23 मार्च से हरियाणा में लॉकडाउन लागू किया गया। 

चार चरणों में 31 मई तक करीब 69 दिन के लिए लॉकडाउन जारी रहा। 1 जून से लेकर अब अनलॉक चल रहा है। लॉकडाउन के 69 दिनों में 31 मई तक स्वास्थ्य विभाग की ओर से 1,18,138 सैंपल लिए गए। इनमें से 1,11,799 सैंपल नेगेटिव मिले थे व 2,091 की रिपोर्ट पॉजीटिव आई, जबकि 4,338 की रिपोर्ट आनी बाकी थी। 

1,048 लोगों को डिस्चार्ज किया गया जबकि 1023 एक्टिव केस थे और 20 लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद 1 जून से लेकर अनलॉक के 62 दिनों में कुल 32,874 नए केस आए हैं। अब कुल संक्रमित मामले 34,965 हो गए हैं। खास बात यह है कि अनलॉक में कोरोना संक्रमण का फैलाव 18 गुना तक बढ़ गया है। 

31 मई तक हर रोज औसतन 30 केस सामने आ रहे थे, जबकि 1 जून के बाद से अब हर रोज औसतन 563 केस सामने आ रहे हैं। अनलॉक में ही कुल 401 लोगों की मौत के साथ ही अब तक कोरोना के चलते कुल 421 लोगों की मौत हो गई है।

सैंपलिंग हुई तेज
अनलॉक में लॉकडाउन की तुलना में सैंपलिंग भी कई गुणा बढऩे से केस बढ़े हैं। लॉकडाउन  में 10 लाख आबादी पर 4,660 टैस्ट किए जा रहे थे जबकि अनलॉक में यह आंकड़ा अब 24,165 तक पहुंच गया है। कुल मिलाकर देखें तो अब तक आए कुल 34,965 मामलों में 23,197 पुरुष, 11,765 पुरुष एवं 3 ट्रांसजेडर शामिल हैं। 

50 प्रतिशत केस अकेले तीन जिलों में
चिंतनीय पहलू यह है कि सघन आबादी वाले शहरों में शामिल गुरुग्राम, फरीदाबाद व सोनीपत में कोरोना का संक्रमण सबसे अधिक फैला है। हरियाणा में कुल आए मामलों में से 50 प्रतिशत केस इन तीन जिलों से आए हैं। पूरे हरियाणा में अब तक 34,965 केस सामने आए हैं, जबकि तीन जिलो गुरुग्राम (7,984), फरीदाबाद (7,295) व सोनीपत (2,500) में ही 50 फीसदी से अधिक 17,779 मामले सामने आ चुके हैं।

संक्रमण बढऩे के साथ रिकवरी रेट बढऩे से मिली राहत
हरियाणा में जहां कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है, वहीं कोरोना से रिकवरी रेट में सुधार होने से भी बड़ी राहत मिली है। 31 मई को कोरोना से ठीक होने की दर 50.12 प्रतिशत थी जो 31 जुलाई को रिकवरी रेट में 30 फीसदी का सुधार हुआ। अब रिकवरी रेट 80.73 तक पहुंच गई है। राहत भरी बात यह है कि 31 मई को कोरोना संक्रमण का डबलिंग रेट 9 दिन था जो 31 जुलाई को 25 दिन हो गया।


Edited By

vinod kumar

Related News