अभय पर दिग्विजय का तंज- घर में जीतने से कोई शेर नहीं होता, गीदड़ देते हैं घर में भभकी

punjabkesari.in Monday, Nov 08, 2021 - 07:49 PM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी): जननायक जनता पार्टी के प्रधान महासचिव दिग्विजय सिंह चौटाला ने इनेलो नेता अभय चौटाला के एक बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि जो लोग घर में जीतकर शोर मचाते हैं वो शेर नहीं बल्कि गीदड़ होते हैं। दिग्विजय ने कहा कि शेर के दहाडऩे की कोई सीमाएं नहीं होती और जो घर से बाहर निकल कर दहाड़ते हैं वो ही असली शेर होते हैं। उन्होंने कहा 'वो शेर ही क्या जिसे खुद को साबित करने के लिए इतनी मशक्कत करनी पड़े।' दिग्विजय चौटाला ने कहा कि ऐलनाबाद उपचुनाव में अभय चौटाला की जीत का अंतर पहले से आधा होना दिखाता है कि ऐलनाबाद की जनता का उनमें विश्वास आधा रह गया है।

जेजेपी प्रधान महासचिव ने कहा कि असली शेर वो होता है जो अपने जंगल की सीमाओं से बाहर निकल कर अपनी बादशाहत साबित करे। उन्होंने कहा कि असली शेर तो चौधरी देवीलाल थे जिन्होंने अपने क्षेत्र से और प्रदेश से बाहर निकलकर चुनाव लड़े और जीते। दिग्विजय ने कहा कि चौधरी देवीलाल के दिखाए रास्ते पर चलते हुए डॉ अजय सिंह चौटाला ने भी अपना पहला ही चुनाव राजस्थान से लड़ा और जीत हासिल की। उन्होंने कहा कि इसी तरह उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भी अपना पहला चुनाव हिसार से लड़कर जीत हासिल की और फिर उचाना विधानसभा से भी लड़े और रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल की। उन्होंने कहा कि नैना सिंह चौटाला ने भी अपने घर से बाहर निकलकर बाढड़ा विधानसभा से चुनाव लड़ा और जनता का विश्वास जीता।

दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय सिंह के बड़बोलेपन की वजह से ही आज इनेलो धरातल पर आ गई है और उनके व्यवहार की बदौलत इनेलो के भविष्य पर भी सवाल उठ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा देख रहा है कि मात्र एक सीट वाली पार्टी के नेताओं में घमंड सभी दलों से ज्यादा है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय चौटाला आज तक सिर्फ एक बार ही अपने क्षेत्र से बाहर निकलकर कुरुक्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़े हैं, जिसमे उन्हें मुंह की खानी पड़ी है। उन्होंने कहा कि असली शेर कौन है इसे प्रदेश की जनता बखूबी समझती है। 

उन्होंने कहा कि राजनीति में शेर बातों से नहीं बनते बल्कि जनता का विश्वास जीतने से बनते हैं। दिग्विजय ने कहा कि 32 विधायक वाली इनेलो पार्टी एक विधायक तक पहुंच गई और अब ऐलनाबाद में भी जीत के लिए दर-दर भटकना पड़ा और बमुश्किल जीत पाए। उन्होंने कहा कि इससे साबित होता है कि अभय सिंह चौटाला प्रदेश की जनता का विश्वास पूरी तरह खो चुके हैं, अब उन्हें अपने मुंह से खुद को शेर कह कर खुश होना है तो यह उनकी मर्जी है, लेकिन जनता सब समझती है।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static