हड़ताल काे लेकर दो हिस्सों में बंटे हरियाणा राेडवेज कर्मचारी

1/6/2020 2:53:55 PM

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा सरकार द्वारा किलोमीटर स्कीम के तहत चलाई गई प्राइवेट बसों के विरोध में 7 और 8 को होने वाली हड़ताल को लेकर कर्मचारी दो हिस्सों में बंट गए हैं। हड़ताल से ठीक एक दिन पूर्व हरियाणा रोडवेज चालक संघ और ऑल हरियाणा परिवहन कर्मचारी संघ हड़ताल में शामिल न हाेने का निर्णय लिया है। दोनों संघों ने अपने-अपने मांंग पत्र परिवहन मंत्री काे भेज दिए हैं।

हरियाणा रोडवेज चालक संघ ने कहा ये राष्ट्रव्यापी हड़ताल है, इससे हमारा कोई लेना देना नहीं हैं, सभी चालक अपनी ड्यूटी पर मौजूद रहेंगे। ट्रांसपोर्ट महानिदेशक से चालक संघ की बातचीत हुई। कुल 12 मांगों में से 9 को पूरा करने का आश्वासन दिया है। वहीं इसके साथ ऑल हरियाणा रोडवेज कर्मचारी संघ ने हड़ताल का विरोध किया। संघ के प्रदेशअध्यक्ष आजाद मालिक ने कहा कि कहा 7 और 8 जनवरी की हड़ताल से हमारा कोई लेना-देना नहीं, हम सामान्य रुप से बसें चलाएंगे।

वहीं इस हड़ताल को टालने के लिए आज परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, विभाग के एसीएस रोडवेज कर्मचारी यूनियनों से वार्ता कर रहे हैं। किलोमीटर स्कीम के विरोध में हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेंल कमेंटी ने 7-8 जनवरी को चक्का जाम की चेतावनी दी है, लेकिन इसी बीच दो संघों ने हड़ताल में शामिल होने से मना कर दिया है।  अब देखना होगा कि दो संघों के इस निर्णय का क्या असर देखने को मिलता है। 

बता दें कि कर्मचारी किलोमीटर स्कीम रद्द करने पर अड़े हुए हैं। जबकि परिवहन मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल तक स्पष्ट कर चुके हैं कि यह स्कीम किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं की जाएगी। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

vinod kumar

Related News

Recommended News

static