सिंघु बॉर्डर पर चल रहे आंदोलन में किसानों ने मनाया आजादी दिवस का जश्न

punjabkesari.in Sunday, Aug 15, 2021 - 07:15 PM (IST)

सोनीपत (पवन राठी): जहां आज पूरे देश ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाई, वहीं सोनीपत कुंडली सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में भी किसानों ने आजादी की इस वर्षगांठ को बड़े धूमधाम से मनाई। सबसे उम्रदराज किसान सतनाम सिंह ने ध्वजारोहण कर बॉर्डर पर किसानों के बीच किसान आंदोलन का संदेश दिया। किसान आंदोलन में आज पूर्व सैनिकों ने परेड मार्च की और कहा कि हम किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं और जब तक यह कृषि कानून वापस नहीं होंगे, तब तक हम अपने घरों को नहीं लौटेंगे।

कुंडली सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में किसानों की सबसे उम्रदराज किसान नेता सतनाम सिंह ने ध्वजारोहण किया और किसानों को संदेश दिया कि जब तक वापस नहीं होंगे हम अपने घरों को नहीं लौटेंगे। वहीं जैसे दिल्ली में भारत के जवान अपना शक्ति प्रदर्शन करते हैं, वैसे ही देश के पूर्व सैनिकों ने किसान आंदोलन में फ्लैग मार्च किया और देश को संदेश दिया कि जब तक यह कृषि कानून सरकार वापस नहीं हम किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। 

PunjabKesari, haryana

पूर्व सैनिकों ने कहा कि हमारे देश के अंदर जो सिस्टम है वो फेल है, उसको सुधारने की जरूरत है। किसानों के पर मोदी, अडानी व अम्बानी के डाका मारा है और हमारे ऊपर भी अफसरों ने डाका मारा है। ये आजादी नहीं है बर्बादी है। सरकार इन तीनो कानूनों को रद्द करे ये कानून किसान के लिए घातक हैं। पहले हम किसान थे फिर हम फौजी बने और बाद में फिर हम किसान बने हैं, ये कानून है बिल्कुल गलत है और सरकार को कानून वापिस लेने चाहिए।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static