पूर्व भाजपा सांसद सैनी ने दिया विवादित बयान, सरकार समेत गीता जयंती पर भी खड़े किए सवाल

punjabkesari.in Thursday, Dec 16, 2021 - 11:07 PM (IST)

कुरुक्षेत्र (विनोद): कुरुक्षेत्र के भाजपा सांसद रह चुके लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के सुप्रीमो राजकुमार सैनी ने एक बार फिर से विवादित बयान दिए हैं। पूर्व सांसद ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती सौ दो सौ रूपये डकारने का सौदा था जो डकार लिए गए हैं। पूर्व सांसद ने गीता के संदेश और गीता जयंती पर ही सवाल खड़े कर दिए और जापान और चीन की विचारधारा के उदाहरण दिए।

राजकुमार सैनी ने कहा कि सरकार ईमानदारी का ढिंढोरा पीटती है लेकिन कुरुक्षेत्र के लाडवा के चौक पर खड़े होकर चैक कर लें कि कितनी अवैध माइनिंग हो रही है और माइनिंग का पैसा सरकार के खजाने की बजाए जेबों में जा रहा है। सरकार कमजोर और चोर अमीर होते जा रहे हैं। पूर्व सांसद ने कहा कि हमारे देश का खजाना दोनों हाथों से लूटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि सोनीपत में कलई खुल चुकी है कि पेपर लीक मामले में कुछ लोग सरकार के सिस्टम को धराशायी किए बैठे हैं। 

सैनी ने कहा कि हमारे देश का नाश अंधविश्वास की वजह से हुआ। मूर्ति पूजा पर हमारे महापुरुषों ने भी विरोध किया है। अगर पत्थर के भगवान किसी को पांच रूपये देते हुए दिखा दें तो वे एक करोड़ रूपये देंगे और उनका भ्रम भी दूर हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जो पत्थर की मूर्ति पूजा कर रहे हैं उनके बच्चे लाचार हैं और दिहाड़ी मजदूरी कर रहे हैं। आज आस्था के नाम पर लूटा जा रहा है। अगर अगर गौतम बुद्ध की विचारधारा को, भीमराव अम्बेडकर और ज्योतिराव फुले की विचारधारा को लागू किया जाए और उसे पढ़ाया जाए तो हमारा देश गरीब नहीं रह सकता है।

उन्होंने स्कूलों में सरस्वती और लक्ष्मी के चित्र पर भी सवाल किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रनिर्माण की जरूरत है। अगर हमारे मुखिया लोग ढोंगी बनकर ढोंग करेंगे तो देश गर्त में ही जाएगा। उन्होंने कहा कि बी. ए. पास लड़का पांचवीं फेल पुजारी के पैरों में नौकरी के लिए पड़ा है। पूर्व सांसद ने कहा कि भाजपा ने हिन्दू-मुस्लिम दिखाने के लिए ही राम मंदिर बनाया है जबकि मुद्दा बेरोजगारी होना चाहिए। मुद्दा अच्छी चिकित्सा और शिक्षा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने एक साल तक किसानों को सड़कों पर पड़े रहने दिया, यह मुद्दा होना चाहिए। सैनी ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री के साथ बैठकर चापलूस लोग ही पेपर लीक तक पहुंचते हैं। यह व्यवस्था सीएम हाउस से जुड़ी होती है।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static