हरियाणा व पंजाब में फर्जी कम्पनियां खोलकर करोड़ों की धोखाधड़ी, आरोपियों की 2.59 करोड़ की सम्पत्ति कुर्क

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 09:37 AM (IST)

करनाल: जिला पुलिस करनाल ने ऐसे आरोपियों की करोड़ों रुपए की चल व अचल सम्पत्ति को उपायुक्त करनाल के माध्यम से कुर्क करवाया है जिन्होंने फर्जी कम्पनियां खोलकर एफ.डी, आर.डी. खोलने के बहाने लोगों से किस्तों के माध्यम से रुपए इक्ट्ठा कर मैच्योरिटी के तौर पर मोटी रकम देने का वायदा कर सैंकड़ों लोगों के साथ करीब 2,41,60,473 रुपए की धोखाधड़ी की थी।

उप-निरीक्षक सलेन्द्र सिंह सी.आई.ए. वन व उप-निरीक्षक सुखबीर सिंह थाना शहर के नेतृत्व में टीम ने आरोपी मलूक सिंह उप्पल वासी अमृतसर, भूपिन्द्र कौर, हरप्रीत सिंह, गुरप्रीत सिंह, सौरभ महाजन, मंदीप कौर, शशि भूषण वासी अमृतसर (पंजाब) व महेश यादव वासी बिहार की 2,59,45,252 रुपए की चल व अचल सम्पत्ति कुर्क की है। 

अमृतसर में भी खोल रखी थीं फर्जी कम्पनियां
आरोपियों ने सर्वोत्तम विकास मल्टी स्टेट हाऊसिंग को-ऑप्रेटिव सोसायटी लिमिटेड, सर्वोत्तम सैल्फ ग्रोथ निधि लि., सर्वोत्तम हाई टैक लि. और सर्वोत्तम हाईटैक इंफा डिवैल्पर्स लि. के नाम से फर्जी कम्पनियां पंजाब के अमृतसर में खोल रखी थीं और इनकी फर्जी शाखा करनाल में भी खोली हुई थी। सभी आरोपी इन कम्पनियों में प्रमुख पदों पर तैनात थे। कम्पनियों में स्टाफ तैनात किया हुआ था और फील्ड में भी अपने एजैंट छोड़े हुए थे। 

कम्पनी के कर्मचारी लोगों को विश्वास में लेकर एफ.डी. और आर.डी. करने के नाम पर मोटी ब्याज दर व मैच्योरिटी के समय पर मोटी रकम देने का लालच देकर उनको फंसाते थे और एक लम्बी अवधि के लिए किस्त जमा करते थे। जब लोगों की एफ.डी. और आर.डी. का समय पूरा होने लगा और वे अपने पैसे मांगने लगे तो आरोपी अपनी कम्पनियों को बंद करके भागने लगे। लोगों को अपने झांसे में लेने के लिए आरोपी समय-समय पर अलग-अलग जगह पर कैम्प व सैमीनार भी लगाते थे और मैच्योरिटी के समय पर जमीन, मकान व नकदी देने का लालच देते थे। शिकायतकत्र्ता एल.जे. बौरीसन वासी सैक्टर-8 के बयान पर उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में थाना शहर (करनाल) में मामला दर्ज करवाया गया था।  
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static