कुट्टू का आटा खाकर लोगों के बीमार होने के बाद जांच शुरू दुकानों पर CM फ्लाइंग की छापेमारी

10/20/2020 8:57:55 AM

करनाल : कुट्टू का आटा खाकर लोगों के बीमार होने की शिकायत के बाद फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से गठित प्रदेश स्तरीय टीम ने करनाल की दुकानों पर छापेमारी की। सी.एम. फ्लाइंग ने सोमवार को सुबह 11 बजे जांच शुरू की। शाम को साढ़े 6 बजे तक कुट्टू के आटे व सावंक के 7 सैम्पल जुटाए गए। अब इन्हें जांच के लिए लैब में भेजा जाएगा। सी.एम. फ्लांइग के इंचार्ज शीशपाल के साथ फूड सेफ्टी ऑफिसर डा. संदीप कादियान ने भी करियाना की दुकानों में दस्तक दी। 6 सदस्यीय टीम में स्वास्थ्य विभाग के 3 कर्मचारी भी शामिल रहे। सी.एम. फ्लाइंग को एक्शन मोड में देखकर दुकानदारों में हड़कंप की स्थित रही। यह टीम सबसे पहले कुंजपुरा रोड पर पहुंची। इसके बाद सैैक्टर-8 व सैक्टर-9 से भी सैम्पल लिए गए। सी.एम. फ्लाइंग इंचार्ज शीशपाल ने बताया कि 3 सैम्पल रविवार को लिए गए थे। रिपोर्ट सही मिली तो ठीक नहीं तो दुकानदारों पर कार्रवाई की जाएगी।

यहां-यहां से लिए सैम्पल 
टीम ने सबसे पहले कुंजपुरा रोड पर स्थित चरण करियाना स्टोर से कुट्टू के आटे का सैम्पल लिया। इसी रोड पर स्थित विनीत कुमार करियाना स्टोर से सावंक और गली नंबर-6 में स्थित पंकज करियाना स्टोर से कुट्टू के खुले आटे के 2 सैम्पल लिए गए। सैक्टर-8 स्थित भारत सुपर स्टोर और इसी सैक्टर के सन्नी डिपार्टमैंटल स्टोर से एक-एक सैम्पल लिया। टीम ने सैक्टर-8 में ही देव डिपार्टमैंटल स्टोर से भी कुट्टू के आटे का नमूना लेकर जांच के लिए लैब में भेजा।  

25 लोगों के बीमार होने के बाद एक्शन 
बता दें कि रविवार को जिलेभर से कुट्टू का आटा खाकर लोगों की तबीयत बिगडऩे की शिकायतें आई थी। करीब 25 लोग उल्टी, दस्त व पेट दर्द की शिकायत के बाद दवाई लेने पहुंचे थे। इनमें से करीब 11 मैडीकल कालेज में एडमिट किए गए थे। स्वास्थ्य में सुधार के बाद इन्हें छुट्टी दे दी गई है। सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने कुट्टू के आटे की जांच के लिए फूड सेफ्टी ऑफिसर को लिखा था। ताकि यह पता लगाया जा सके कि आखिर लोगों का स्वास्थ्य खराब होने की वजह क्या रही।  

शनिवार को भारत स्वीट्स पर मारा था छापा 
इससे पहले गत शनिवार को सी.एम. फ्लाइंग और फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की संयुक्त टीम ने पुरानी सब्जी मंडी के सामने भारत स्वीट्स पर छापा मारा था। टीम ने यहां से 5 सैम्पल लिए थे। टीम के अनुसार यहां रसगुल्लों के टब में मधुमक्खियां मिली थी। इसके अलावा कई खाद्य पदार्थ पुराने मिले थे। इस दुकान के सैम्पल सील कर चंडीगढ़ लैब में भेजे गए थे।  


Isha

Related News