NRI भारतीयों ने बढ़ाई कारोना कर्मवीरों की मुश्किलें, अस्पताल छोड़ होटल्स में रहने की कर रहें है जिद्द

3/26/2020 10:49:42 AM

गुरुग्राम(मोहित)- गुरुग्राम के विभिन्न इलाको के अस्पतालों में इलाज करवा रहे एन.आर.आई. भारतीयों के बेहूदा हो चले व्यवहार ने कारोना कर्मवीरों की मुश्किलों को बढ़ाना शुरू कर दिया है, दरअसल पुलिस कमिश्नर गुरुग्राम की माने तो एसजीटी यूनिवर्सिटी की बात हो या फिर मानेसर के आर्मी कैम्प की बात हो दोनों ही जगह 14 दिन के लिए इन तमाम एनआरआई भारतीयों को आइसोलेट किया जाना तय था। हर दिन इनका ब्लड सेम्पल ले जांच के लिए भेजा जाना भी एक प्रक्रिया का हिस्सा है लेकिन यहां इलाज करवा रहे ज्यादातर एनआरआई भारतीयों के व्यहवार के कारण उन्होंने यहां रहने से मना कर दिया। 

 
एयर लिफ्ट कर लाए गए है सारे विदेशी 
यह वहीं विदेशों में फंसे भारतीयों लोग थे जिन्होंने भारत सरकार से मार्मिक गुहार लगाई थी कि उन्हें वहां के माहौल से निकाला जाए और इसी मार्मिक अपील पर भारत सरकार ने चाइना, इटली,यूके,जैसे तमाम देशों से ऐसे तमाम एनआरआई भारतीयों को एयर लिफ्ट कर भारत मे लाया गया और देश के कई अस्पतालों में ऐसे तमाम भारतीयों को कारोना वायरस के मध्यनजर आइसोलेट किया गया था, लेकिन अब यही तमाम लोग कहीं न कहीं अपने बेहूदा व्यवहार से अस्पताल प्रबंधन के साथ साथ पुलिस के लिए भी दिक्कतें खड़ी करते जा रहे है।

जिला के सवास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों की माने तो ऐसे तमाम भारतीय जिनकी रिपोर्ट नेगिटिव है कोई भी संबंधित अस्पतालों में नही रहना चाहता बल्कि होटल्स में रहने की जिद के साथ खुद को होटल में ही आइसोलेट करने जैसी डिमांड भी कर रहे है। 


Isha

Related News