स्वास्थ्य मंत्री ने आशा पे नामक पोर्टल का किया शुभारंभ, अब वर्कर को समय से मिलेगा वेतन

10/24/2020 8:14:58 AM

चंडीगढ़ (पांडेय) : हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अधिकृत सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकत्र्ता (आशा वर्कर्स) के डिजीटल भुगतान व निगरानी के लिए ‘आशा-पे’ नामक एंड्रॉइड एप्लीकेशन/वैब पोर्टल का शुभारंभ किया। इससे राज्य में कार्यरत 20,268 आशा वर्कर्स को लाभ होगा।

उन्होंने कहा कि आशा वर्कर्स विभाग की बड़ी ताकत हैं। ऐप की सहायता से आशा वर्कर्स को मासिक मानदेय एवं प्रोत्साहन राशि की अदायगी डिजीटल और शीघ्र होगी। साथ ही प्रदर्शन एवं मूल्यांकन रिपोर्ट का सत्यापन एवं स्वीकृति भी डिजीटल रूप में होगा। इस ऐप के शुरू होने से आशा वर्कर्स की पुरानी मांग पूरी हो जाएगी। इस ऐप की सहायता से प्रक्रिया की पूरी निगरानी वे स्वयं, अतिरिक्त मुख्य सचिव व एम.डी. स्तर के अधिकारियों द्वारा की जाएगी। विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि आशा वर्कर्स के प्रदर्शन की निगरानी एवं रिपोर्ट राज्य मुख्यालय पर भी होगी। 

स्मार्टफोन के जरिए जियो लोकेशन से जुड़ेंगी आशा वर्कर
मंत्री ने कहा कि आशा वर्कर्स को असीमित कॉल और 4जी 30 जी.बी. इंटरनैट मासिक डेटा के सी.यू.जी. सिम उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि आशा वर्कर्स स्मार्ट फोन के जरिए जियो लोकेशन से जुड़ेंगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के जिला अस्पतालों में अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।

रिकवरी को लेकर सभी निगम आयुक्त 15 दिन में दें जवाब
हरियाणा के शहरी निकाय मंत्री अनिल विज अब बदहाल नगर निगमों को आॢथक तौर से सशक्त करने में जुटे हैं। उन्होंने प्रदेश के सभी निगम आयुक्तों से बकाया पैसों की रिकवरी को लेकर 15 दिन में जवाब मांगा है। मंत्री ने कहा है कि यदि विभिन्न तरीके से आने वाले टैक्स के पैसों की समय से रिकवरी नहीं होगी तो निकाय कर्मियों को वेतन कहां से दिया जाएगा। विज ने कहा कि अब उनके विभाग में काम न करने वाले अफसरों को छोड़ा नहीं जाएगा। विज के इस एक्शन से अब निकाय अफसरों में हड़कंप मच गया है। उन्होंने कहा कि शराब तस्करी को लेकर पुलिस विभाग को सख्त आदेश दिए हैं,जहां भी कोई केस पकड़ा जाता है तो उसके अंतिम निष्कर्ष तक जाना होगा। 


Manisha rana

Related News