तीन दिवसीय हडताल पर स्वास्थय कर्मचारी, मांगे पूरी ना होने पर लंबे आंदोलन की दी चेतावनी

punjabkesari.in Monday, Jun 27, 2022 - 02:28 PM (IST)

फतेहाबाद(रमेश): स्वास्थ्य कर्मचारी संघ हरियाणा ने सरकार द्वारा 2018 में एनएचएम कर्मचारियों को दिये गये सेवा नियम को वापिस लेने के विरोध में एवं सातवां वेतन सहित अन्य लंबित पड़ी मांगों को पूरा करवाने के लिए आज से तीन दिवसीय हड़ताल की शुरुआत कर दी है। सभी कर्मचारियों ने नागरिक अस्पताल के बाहर धरना देकर सरकार के ख़िलाफ़ जमकर नारेबाजी की।

7वां वेतन आयोग का लाभ देने समेत कई मांगों को लेकर है हड़ताल

स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष विपिन शर्मा ने बताया कि सरकार द्वारा एनएचएम कर्मचारियों की मांगें न माने जाने के कारण हड़ताल करने का निर्णय लिया गया है। कोरोना काल में प्रदेश भर के ज्यादातर कर्मचारी कोरोना से पीड़ित ही नहीं हुए बल्कि कुछ कर्मचारियों ने अपनी शहादत भी दी है। लेकिन फिर भी प्रदेश सरकार लगातार कर्मचारियों की अनदेखी कर रही है। मुख्यमंत्री द्वारा 6 महीने पहले 7वां वेतन देने की घोषणा की गई थी, लेकिन विभागीय अधिकारी इसकी अनदेखी कर ही रहे हैं। इसके अलावा सेवा नियमों को भी खत्म करने की मंशा पाल रखी है, जिस वजह से प्रदेशभर के एनएचएम कर्मचारी आज से तीन दिन की हड़ताल पर जाने को मजबूर हुए हैं। उन्होंने कहा कि उनकी मुख्य मांगें 7वां वेतन आयोग का लाभ देने की घोषणा को पूरा करना, सर्विस नियम 2018 को बहाल रखना एवं उनमें संशोधन करना, नियमित कर्मचारियों की तरह अन्य सभी लाभ एवं 58 साल तक सेवा सुरक्षा देना आदि शामिल है। सरकार जल्द से जल्द इन मांगों को पूरा करे अन्यथा कर्मचारियों को तीन दिन की हड़ताल के बाद मजबूरन कड़े कदम उठाते हुए आंदोलन को लंबा खींचना पड़ेगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static