पानी की हौद में डूबने से मासूम बच्चे की हुई मौत, मंदिर में पूजा करने गए थे घर वाले

punjabkesari.in Wednesday, May 04, 2022 - 11:22 AM (IST)

फरीदाबाद : एनआईटी-5 में मंगलवार शाम को स्टेशन रोड़ पर बनी एमसीएफ की नर्सरी में बनी पानी की हौद में गिरने से ढ़ाई साल के बच्चे की डूबने से मौत हो गई। घरवाले वहां बने मंदिर में पूजा करने गए थे। पेश से मृतक तेजस उर्फ कान्हा के पिता पंडित अमर स्वरूप हैं। जो पंडिताई का काम करते हैं और एनआईटी-5 में पंचायती मंदिर में भी स्थायी रुप से पंडित हैं। अक्षय तृतिया के अवसर पर शाम 5 बजे अपने परिवार सहित एमसीएफ की 5 नम्बर नर्सरी में बने मंदिर में पूजा करने गए थे। जहां पौधों को पानी देने के लिए एमसीएफ की ओर से पानी की हौद बनाई हुई है। हौद करीब 5 फीट गहरी थी।

हौद के आसपास ही उनका बड़ा बेटा अर्जुन (7) और छोटा बेटा तेजस (ढ़ाई) दोनों खेल रहे थे। पास ही मंदिर में बच्चों के पिता पंडित अमर स्वरूप अपने परिवार समेत पूजा करने में लगे थे। अचानक से खेलते हुए बच्चें का पैर फिसल गया और वह पानी की हौद में जा गिरा। उसके बड़े भाई कान्हा ने उसे बचाने की कोशिश की और शोर मचाया। जब तक वह मदद लेकर आ पाता तब तक देर हो चुकी थी और नन्हें तेजस की सांसें जवाब दे चुकी थी। शौर सुनकर पहुंच परिजनों ने उसे पानी से निकाला और नजदीक के अस्पताल में लेकर गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। तेजस की एक बड़ी बहिन राधिका (10) भी है। 

मां का रो-रोकर बुरा हाल, घर में मचा कोहराम
बच्चे की मौत की खबर के बाद से ही पंडित जी के घर में कोहराम मचा हुआ है। पंडित जी के पुत्र की मौंत की खबर सुनते ही पूरा एनआईटी-5 डी ब्लॉक उनके निवास पर एकत्रित हो गया। जहां पर तेजस की माता बिट्टू, बहन राधिका, भाई अर्जुन और पिता व ताऊ का रो-रोकर बुरा हाल है। पंडित जी की ख्याति पूरे एनआईटी क्षेत्र में थी। वह घरों में जाकर पूजा पाठ करते रहते हैं और डी ब्लॉक के पंचायती मंदिर में नौकरी करते है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static