हरियाणवी संस्कृति में जय जवान और जय किसान का अहम योगदानः डॉ. नीता खन्ना

punjabkesari.in Sunday, Nov 01, 2020 - 01:00 PM (IST)

चंडीगढ़(चन्द्र शेखर धरणी): कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. नीता खन्ना ने रविवार को हरियाणा दिवस के मौके पर सभी हरियाणा वासियों, शिक्षकों, कर्मचारियों, विद्यार्थियों व देश विदेश में रहने वाले हरियाणवियों को हरियाणा दिवस की ढेरों शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए अपने आनलाईन दिए हुए संदेश में कहा कि यह गर्व की बात है कि वीरों व किसानों की भूमि हरियाणा ने देश को बहुत से नामी खिलाड़ी, जवान, वैज्ञानिक, कलाकार दिए हैं। खेल, फिल्म जगत, तकनीक, अनुंसंधान, कृषि व अन्य क्षेत्रों में हरियाणा के लोगों ने अपने प्रदेश का लोहा मनवाया है। 

कुलपति ने कहा कि हरियाणा के किसानों का हरित क्रान्ति सहित समस्त कृषि क्षेत्र में योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। हरियाणवी संस्कृति में जय जवान और जय किसान का अहम योगदान है। हरियाणा वीरों की भूमि है जहां बलिदानों और पराक्रम का इतिहास रहा है। हमारे जवान देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं, वहीं हमारी वीरांगनाओं का भी प्रदेश के गौरव बढ़ाने में विशेष स्थान है। हरियाणा प्रदेश  के विकास में योगदान के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसानों, महिलाओं, बेरोजगारों, मजदूरों, कर्मचारियों, युवाओं व छात्रों सहित समाज के सभी वर्गों के लिए अनेकों योजनाएं चलाई है जिसका हम सभी लाभ उठा रहे हैं। आपके नेतृत्व में हरियाणा ने अभूतपूर्व प्रगति कर देश और विदेश दोनों में ही विशिष्ट पहचान बनाई है। मुख्यमंत्री जी की दूरगामी सोच हरियाणा को नई बुलंदियों पर पहुंचाने को काम करेगी।

कुलाधिपति सत्यदेव नारायण आर्य जी के मार्गदर्शन में हरियाणा का प्रथम विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी रहकर युवाओं को एक नई दिशा और गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा प्रदान कर रहा है। सामान्य परिस्थितियों में बेहतरीन प्रदर्शन के साथ वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान भी कुलाधिपति जी के मार्गदर्शन में कुवि ने सफलतापूर्वक छात्रहित में ऑनलाईन कक्षाएं और परीक्षाएं आयोजित करके एक मिसाल कायम की है। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने हरियाणा की सांस्कृतिक विरासत को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने के लिए जो सार्थक कदम उठाए हैं उससे हरियाणा की गरिमा एवं पहचान वैश्विक स्तर पर बढ़ी है। कुलपति ने आशा व्यक्त की कि कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के सभी शिक्षक, कर्मचारीगण व छात्र समाज नए जोश और समर्पण के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय , हरियाणा तथा भारत की उन्नति में भरपूर योगदान करेगें।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static