हरियाणा की जनता को प्यासा रखकर, दिल्ली को एक्स्ट्रा पानी नहीं देंगे- सीएम खट्टर

punjabkesari.in Friday, May 20, 2022 - 11:33 PM (IST)

चंडीगढ़(ब्यूरो): पानी को लेकर पंजाब हरियाणा और दिल्ली के बीच छिड़ी जुबानी जंग में आज सीएम मनोहर लाल खट्टर का बयान सामने आया है। सीएम खट्टर ने कहा कि हरियाणा दिल्ली को उसके हक का पूरा पानी दे रहा है।  सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक दिल्ली को उसके हिस्से का 1049 क्यूसेक पानी दिया जा रहा है। इस मुद्दे पर सीएम मनोहर लाल ने साफ कहा कि जिस दिन पंजाब हरियाणा को उसके हिस्से का पूरा पानी दे देगा, तब दिल्ली को भी अतिरिक्त पानी मिल जाएगा।

सीएम खट्टर ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने 29 फरवरी 1996 को हरियाणा सरकार को निर्देश दिए थे कि दिल्ली को प्रतिदिन 330 क्यूसेक अतिरिक्त पानी दिया जाए। इससे पहले दिल्ली का पानी में हिस्सा प्रतिदिन 719 क्युसेक था। सीएम ने कड़े शब्दों में दिल्ली सरकार को कहा कि दिल्ली में अगर पानी की कमी को पूरा करना है तो ये जिम्मेदारी सिर्फ हरियाणा की नहीं बल्कि आप सरकार की भी है। अब दिल्ली के साथ-साथ पंजाब में भी आप की सरकार है। इसलिए पहले केजरीवाल को पंजाब से हरियाणा के हिस्से का पानी देने की बात करनी चाहिए।

सीएम ने कहा कि अब दिल्ली सरकार का डबल रोल हो गया है। उन्होंने कहा कि हम अपने लोगों को प्यासा मारकर दिल्ली के लोगों को पानी देंगे तो प्रदेश के लोगों के लिए यह अन्याय होगा। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि दिल्ली को वो पर्याप्त मात्रा में पानी दे रहे हैं, लेकिन अब उन्हें और ज्यादा पानी चाहिए तो उसके लिए पंजाब सरकार को हरियाणा को पानी देना होगा।

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static