संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर कल 5 घंटे तक जाम रहेगा केएमपी-केजीपी एक्सप्रेस वे

punjabkesari.in Friday, Mar 05, 2021 - 06:06 PM (IST)

पलवल (दिनेश): पलवल में कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन को 100वें दिन भी जारी रहा। आंदोलन के 100 दिन पूरे होने पर किसान नेताओं ने कहा है कि आंदोलन लगातार जारी रहेगा जब तक कृषि कानून वापसी नहीं होते और एमएसपी पर कानून नहीं बनता किसान घर वापसी नहीं करेंगे। सर्दी का मौसम जा चुका है अब किसानों ने गर्मियों की तैयारी कर ली हैं। टेंटों में पंखे लगा लिए हैं और आने वाले दिनों में धरना स्थल पर झोपड़ी डाली जाएंगी और उनमें कूलर की व्यवस्था की जाएगी। 

किसान नेता मास्टर महेन्द्र सिंह चौहान और राजकुमार ओलिहान ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर यहां का किसान हर आदेश की पालना करते हैं। केएमपी-केजीपी एक्सप्रेस वे को जाम किया जाएगा। किसान सड़क पर टोल बैरियर पर बैठकर जनसभा करेंगे और विरोध प्रदर्शन जताएंगे और चौपाई व रागनियां आयोजित की जाएंगी, विरोध प्रदर्शन के लिए पूरी रूपरेखा तैयार कर ली गई है। गांवों से किसान ट्रैक्टर-ट्रालियों में धरना स्थल पर आएंगे और एक्सप्रेस वे को 11 बजे से शाम 4 बजे तक जाम रखा जाएगा। 

उन्होंने बताया कि सात मार्च को कर्नाटक से एमएसपी के लिए शुरू होने वाली यात्रा में भी यहां के किसान समय-समय पर शामिल होंगे। पलवल पहुंचने पर यात्रा का स्वागत भी किया जाएगा। आठ मार्च को धरना स्थल पर किसान महिला दिवस मनाएंगे। किसान महिलाओं का सम्मान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आंदोलन अपने चरम पर है।  

किसान नेता महेंद्र चौहान ने कहा कि अपने हकों की लड़ाई के लिए किसान तीन माह से सड़कों पर बैठे हैं, उसके बावजूद सरकार हठधर्मी पर अड़ी हुई है। सरकार को किसानों की पीड़ा नजर नहीं आ रही है। आंदोलन को तेज करने के लिए गांवों में जागरूकता अभियान जारी है। किसान संघर्ष समिति के पदाधिकारी रोजाना सुबह 10 से 1 बजे तक गांवों की चौपाल व सामूहिक जगहों पर सभाएं आयोजित कर लोगों को कृषि कानूनों के नुकसान बता रहे हैं। 
 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static