BJP में शामिल होकर सोनाली के दर पर पहुंच ही गए कुलदीप बिश्नोई

punjabkesari.in Thursday, Aug 18, 2022 - 09:26 PM (IST)

आदमपुर: विधायक पद से इस्तीफा देकर चार अगस्त को भाजपा में शामिल होने वाले कुलदीप बिश्नोई पहली बार आदमपुर दौरे पर पहुंचे तो सभी को चौंकाते हुए सोनाली फोगाट के घर पर उन्हें मिलने भी पहुंच गए। कभी धुर विरोधी रहे दोनों नेताओं की मुलाकात ने सभी को हैरान कर दिया। शायद यह ऐसा पहला मौका होगा जब दोनों नेता एक साथ एक फ्रेम में दिखाई दिए हैं। आदमपुर उपचुनाव के लिए तैयारी कर रहे कुलदीप बिश्नोई की सोनाली संग भेंट को पुराने शिकवे मिटाने की एक कोशिश माना जा रहा है।

 

PunjabKesari

 

नई मुलाकात से पुराने मतभेद मिटाने की हो रही कोशिश

 

अंतरआत्मा की आवाज पर कांग्रेस का साथ छोड़ने वाले बिश्नोई ने 2019 के विधानसभा चुनावों में सोनाली फोगाट के खिलाफ ही चुनाव जीता था। कुलदीप बिश्नोई के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें शुरू होते ही सोनाली खुलकर बिश्नोई को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दे चुकी हैं। सोनाली के रवैये को देखकर ही शायद कुलदीप बिश्नोई ने पुराने मतभेद मिटाकर नई शुरुआत की है। माना जा रहा है कि कुलदीप बिश्नोई ने उन्हें समर्थन देने के लिए सोनाली से अपील भी की होगी। हालांकि दोनों ही नेताओं की ओर से इस मीटिंग को लेकर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

 

PunjabKesari

 

सोनाली फोगाट कई बार साध चुकी हैं बिश्नोई पर निशाना

 

राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस के खिलाफ क्रॉस वोटिंग करने वाले कुलदीप बिश्नोई ने पहले ही भाजपा का दामन थामने की ओर इशारा कर दिया था। यह खबर सामने आते ही सोनाली फोगाट ने एक ट्वीट करते हुए अपनी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने लिखा था कि, ‘मेरी मेहनत का असर तो देख ए जमाने, जमीं जो खिसकाई उसके पैरो तले से, आसरा मैंने उसे मेरे ही दर पे आना पड़ा’। वहीं अब सोनाली के घर दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक के बाद यह ट्वीट भी जमकर शेयर किया जा रहा है।

 

PunjabKesari

 

लोग कह रहे हैं कि आखिरकार बिश्नोई को सोनाली फोगाट के दर पर जाना ही पड़ा। बता दें कि बिश्नोई पर खुलकर बोलने वाली सोनाली फोगाट कुलदीप को एक अच्छा आदमी भी बता चुकी हैं। चुनावी प्रतिद्वंदिता को एक तरफ रखकर सोनाली ने बिश्नोई की तारीफ भी की थी। हालांकि चुनावी मतभेद कई बार खुलकर सामने आ चुक हैं। 

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static