शहीद श्रीओम गौतम के अंतिम संस्कार में उमड़ा जनसैलाब, बेटी बोली- भर्ती होकर पापा के अधूरे काम करूंगी पूरे

punjabkesari.in Saturday, Apr 16, 2022 - 07:45 PM (IST)

चरखी दादरी (नरेंद्र) : जम्मू कश्मीर के शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ में वीरवार को सेना के तीन जवान शहीद हो गए थे। जिनमें एक हरियाणा का जवान श्रीओम गौतम भी शामिल था। जोकि चरखी दादरी के गांव महराणा का रहने वाला था। जैसे ही यह खबर उनके गांव पहुंची तो पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई तथा परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वहीं दूसरी तरफ देश के लिए बेटे की शहादत पर नाज भी था।  

PunjabKesari

वहीं आज शहीद का पार्थिव शरीर पैतृक गांव महराणा में पहुंचा तथा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। आस-पास के गांव से लोग भारी संख्या में पहुंचे। वहीं भिवानी महेंद्रगढ़ लोकसभा सांसद धर्मवीर सिंह भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सुखविंदर सिंह मांढी, जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर अजय सिंह चौटाला दादरी उपायुक्त प्रदीप गोदारा व अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने शहीद को पुष्प अर्पित कर अंतिम श्रद्धांजलि दी। शहीद श्री ओम गौतम के पुत्र योगेश ने मुखाग्नि दी। शहीद सूबेदार श्रीओम की बेटी का कहना है कि फौज में भर्ती होकर पापा के अधूरे काम को पूरा करूंगी। 

PunjabKesari

आपको बता दें कि श्रीओम गौतम अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पहलवान थे और कुश्ती में विशेष रूचि रखते थे। उन्होंने जूनियर एशियाड में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता था। वह साल 1998 में सेना में भर्ती हुए थे। इस समय श्रीओम गौतम की दक्षिण जम्मू कश्मीर में 44 आरआर में तैनाती थी। वह तीन भाईयों में दूूसरे नंबर के हैं। शहीद की बड़ी बेटी बीएससी की छात्रा है और बेटा बारहवीं कक्षा में पढ़ रहा है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static