जी-23 के नेताओं भूपेंद्र हुड्डा व मनीष तिवारी की मीटिंग से राजनीतिक अटकलों का बाजार गर्म

punjabkesari.in Wednesday, Mar 23, 2022 - 06:46 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी): शहीद भगत सिंह की स्मारक खटकड़ कला में माथा टेकने के बाद जी-23 के कुछ दिग्गज नेताओं की महत्वपूर्ण बैठक होना राजनीतिक चर्चाओं को जन्म दे रहा है। जी 23 के दिग्गज नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा तथा मनीष तिवारी शहीद भगत सिंह के खटखट कला में उनकी समाधि पर पुष्प अर्पित करने के बाद आपस में लंबा विचार-विमर्श अकेले में करते रहे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 25 मार्च शुक्रवार को सोनिया से हुड्डा की   मुलाकात सम्भावित है। आज की इस मीटिंग को महज एक इत्तेफाक कहा जाए या एक योजनाबद्ध कार्यक्रम क्योंकि जी 23 से संबंधित नेताओं की यह मुलाकात और मीटिंग के राजनीतिक मायने कई निकलते हैं । 

प्राप्त जानकारी के अनुसार हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री तथा नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप शर्मा विधायक भारत भूषण बतरा तथा अन्य कुछ विधायक आज प्रातः खटकड़ कला शहीद भगत सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित करने गए। जी-23 के एक अन्य दिग्गज नेता मनीष तिवारी जो हाल ही में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलकर आए हैं ।उन्होंने तथा हुड्डा ने वहां पर एकांत में कई मुद्दों पर चर्चा की। आम आदमी पार्टी ने जिस प्रकार से पंजाब में सरकार बनाने के बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान का शपथ ग्रहण समारोह खटखट कला में रखा ।

उसके बाद से खटकड़ कला सभी राजनीतिक दलों के लिए एक विशेष केंद्र बिंदु बन गया है। हाल ही में हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ भी भाजपा के कई नेताओं के साथ वहां नतमस्तक होकर आए। प्राप्त जानकारी के अनुसार जी-23 ग्रुप के कुछ नेता भी यहां पहुंचे। पंजाब से कांग्रेस के विधायक प्रताप सिंह बाजवा, विक्रमजीत सिंह फिललौर भी यहां पर पहुंचे थे। आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत सिंह मान ने हरियाणा,पंजाब व केंद्र के सभी नेताओं को शहीद भगत सिंह सुखदेव राजगुरु के साथ- साथ खटकड़ कला की याद भी ताजा करवा दी है।

PunjabKesari

देश के अंदर कांग्रेस की राजनीति में जो कुछ चल रहा है उसको देखते हुए पुराने कांग्रेसियों के ग्रुप जी-23  की बढ़ती सक्रियता एक बार फिर से देखी जा रही है। इस सक्रियता के अंदर इस बार खटास पैदा ना हो यह मध्यस्थता एवं रोल इस बार पूर्व मुख्यमंत्री हरियाणा तथा नेता प्रतिपक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह हुड्डा सोनिया गांधी के साथ मिल कर निभा रहे हैं। इसी सिलसिले में भूपेंद्र सिंह हुड्डा के प्रयासों से जी-23 के कई दिग्गज नेता बीच-बीच में राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मुलाकात करते रहते हैं। आम आदमी पार्टी के बढ़ते हुए प्रभाव को देखते हुए हरियाणा मैं कांग्रेस को कैसे सफल बनाया जाए। तथा ऐसे प्रांत जहां पर इस वक्त कांग्रेस का शासन है वहां कांग्रेसियों में कैसे मजबूती रखी जाए इस पर भी मंथन चल रहा है। ऐसे प्रदेश जहां कांग्रेस संगठन मजबूती से खड़ा हो सकता है तथा संगठन में कौन से चेहरे रखे जाएं पर जी-23 के माध्यम से कॉंग्रेस आलाकमान भी मंथन करने पर लगी हुई है।

 खटकर कलां में कांग्रेस हरियाणा के विगत नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा अपने अत्यंत विश्वस्त साथियों की टीम के साथ मनीष तिवारी तथा उनकी  टीम से एकांत में जो मंथन कर आए उसके राजनीतिक मायने भी निकाले जा रहे हैं। गौरतलब है कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा हरियाणा बजट सत्र खत्म होने के बाद इस बात को मीडिया के सामने मान चुके हैं की जी-23 के मुद्दों पर राहुल गांधी से मिले थे। साथ ही उन्होंने स्पष्ट कर दिया था कि वह अपने तथा अपने पुत्र के लिए किसी पद प्राप्ति के लिए कोई लॉबिंग करने पर नहीं लगे हुए। हुड्डा ने स्पष्ट कर दिया कि वह विपक्ष के नेता के रूप में पूर्ण संतुष्ट हैं। अन्य किसी पद की उनको चाहत नहीं है। शहीद भगत सिंह के शहीदी दिवस पर बुधवार को जी 23 के नेताओं के अंदर हुई गोपनीय बैठक इस बात के संकेत कर रही है कि जी 23 पूरी तरह से सक्रिय है तथा अपनी सक्रियता के माध्यम से कांग्रेस आलाकमान पर हर तरह का दबाव बनाए हुए हैं।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static