गौड़ ब्राह्मण की जमीन को लेकर बोले नवीन जयहिंद, ‘जमीन हाथ जोड़कर नहीं-तोड़ कर लेंगे’

punjabkesari.in Monday, May 16, 2022 - 03:03 PM (IST)

यमुनानगर(सुरेंद्र मेहता) : आप पार्टी के पूर्व अध्यक्ष नवीन जयहिंद इन दिनों रोहतक में गौड़ ब्राह्मण सभा की जमीने के मामले को लेकर लगातार सरकार को घेरने का काम कर रहे हैं। इसी बीच जब वह यमुनानगर में पहुंचे तो एक बार फिर बीजेपी सरकार को आड़े हाथों लिय़ा औऱ कहा कि रोहतक में 2009 में गौड़ ब्राह्मण सभा को 16 एकड़ जमीन स्कूल, अस्पताल बनाने के लिए दी गई थी। जिस पर सरकार ने कब्जा कर लिया। जो हम लोगों ने कब्जा हटवा दिया। अब सरकार ने आठ करोड़ 86 लाख रुपए देने का पत्र जारी किया है।

उन्होंने कहा कि यह जमीन किसी भी कीमत पर सरकार को नहीं ले जाने देंगे। 100 बार बोर्ड लगाया तो 100 बार उसे उखाड़ देगे। नवीन जयहिंद ने कहा कि सरकार को इस स्कूल, कालेज के निर्माण के लिए कुछ देना चाहिए था। लेकिन अब इसे 8 करोड़ 86 लाख रुपए मांगे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि डंके की चोट पर हाथ जोड़कर नहीं हाथ तोड़ कर जमीन लेंगे। अगर जमीन की तरफ सरकार ने देखा तो सरकार को जमीन में गाड़ देंगे।

उन्होंने कहा कि हमने इसीलिए भगवान परशुराम का फरसा उठा रखा है ।इससे हम अपना हक लेंगे। उन्होंने कहा कि 22 मई को रोहतक में उसी गांव में भगवान परशुराम की जयंती मनाई जा रही है। जिसमें पूरे प्रदेश से 1001 प्रतिनिधि एक एक फरसा, एक एक ईंट लेकर पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ब्राह्मण समाज को कमजोर समझने की कोशिश ना करें।

वही उन्होंने कहा कि कश्मीरी पंडितों पर राजनीति की जा रही है। कश्मीर पंडित तभी बचेंगे जब उन्हें एके-47 दी जाएगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के खिलाफ हथियार दिए गए थे। यहां तो पाकिस्तान से आतंकवादी आते हैं उनसे लड़ने के लिए एके-47 दी जाए।

वहं नवीन जयहिंद ने कहा की हरियाणा में विभिन्न विभागों में 5लाख पद खाली हैं 25लाख बेरोजगार धक्के खा रहे हैं। 50000 पद अकेले शिक्षा विभाग में खाली हैं। ऐसे में हरियाणा के कृषि कृषि मंत्री जो खुद जेई के पद पर कार्यरत थे। बेरोजगारों का मजाक उड़ाते हुए कहते हैं कि सरकारी नौकरी में क्या रखा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान से 4000 में बहु लाएंगे। नवीन जयहिंद ने कहा कि 4000 में बहु मिलती है तो मुख्यमंत्री और गृहमंत्री का विवाह करवाओ बेरोजगारों से मजाक मत करो।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static