चंडीगढ़ में हमारे अंगद की तरह जमे पांवो को कोई नहीं हटा पाएगा : अनिल विज

punjabkesari.in Wednesday, Apr 06, 2022 - 08:56 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी):हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि आज तक चंडीगढ़ से संबंधित पंजाब हरियाणा के सभी कमीशन चाहे शाह कमीशन, इरादी ट्रिब्यूनल, राजीव लोंगोवाल अवार्ड, इंदिरा गांधी अवार्ड बने, किसी से भी हरियाणा का कोई लाभ नहीं हुआ। इस सच को हमें मानना होगा। लंबी लंबी लड़ाइयां लड़ कर भी आज हम वहीं के वहीं खड़े हैं। एसवाईएल पर सारे टर्मिनल्स पर हमारा हक हमें नहीं मिला है। साडे तीन एमएएफ का पानी हमें नहीं दिया गया है। आज तक हम अपने हक का पानी ला पाने में नाकाम रहे हैं। इससे हुए आर्थिक नुकसान का हम अंदाजा तक भी नहीं लगा सकते। आज भी हमारे खेत प्यासे हैं। खेतों की प्यास जिस पानी से भुजनी चाहिए थी वह हमें नहीं दिया गया है।

पंजाब के हालात श्रीलंका जैसे  :अनिल विज

पंजाब की हालत श्रीलंका जैसी होती देख प्रदेश की जनता का ध्यान भटकाने के लिए चंडीगढ़ से जुड़ा प्रस्ताव पंजाब सरकार लेकर आई है। पंजाब सरकार जानती है कि वह अपने वायदों पर कभी पूरा उत्तर नहीं पाएगी। इसलिए यह शरारत पूर्ण व्यवहार पंजाब सरकार ने की है। प्रदेश के कद्दावर मंत्री  अनिल विज ने कहा कि 4 दिन की पार्टी जो अभी शिशु काल में है, जिसके दूध के दांत भी अभी नहीं टूटे वह आज बातें चंडीगढ़ की कर रही है। क्या चंडीगढ़ ऐसे ही उन्हें दे दिया जाएगा। विज ने कहा कि आज सदन का यह स्वरूप देखकर बहुत अच्छा लग रहा है कि आज हम सब राजनीतिक विचारधाराओं को भुलाकर इस अहम मुद्दे पर एक होकर लड़ने के लिए और कुछ भी करने के लिए एकजुट नजर आ रहे हैं। उन्होंने नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा की तारीफ और स्वागत करते हुए कहा कि उनके द्वारा यह कहा गया कि जब भी - जहां चलने के लिए कहोगे चलने के लिए तत्पर हैं। विज ने कहा कि राष्ट्र के मुद्दे पर अपने आपसी मुद्दों को बीच में नहीं लाया जाना चाहिए। यह हमारी आप से लड़ाई है, हम लड़ते रहेंगे। लेकिन उसके लिए हमारे पास और समय बहुत है।

बड़े भाई का दर्जा प्राप्त पंजाब से हम कहीं बड़े नजर आ रहे हैं :अनिल विज

अनिल विज सदन ने सदन में पंजाब को आईना दिखाते हुए कहा कि हरियाणा मेहनतकश लोगों का प्रदेश है। हरियाणा ने जो कहा वह हमेशा करके दिखाया है। 1966 में हरियाणा- पंजाब बंटवारे के वक्त हरियाणा के हालात बेहद खराब थे। लेकिन हरियाणा के लोगों ने मेहनत करके हरियाणा को संवारा और हरियाणा को तरक्की की बुलंदियों पर पहुंचाया। जहां अभी तक सभी लोग यह कहते रहे हैं कि पंजाब हमारा बड़ा भाई है। लेकिन आज हम पंजाब से कहीं बड़े नजर आ रहे हैं। क्योंकि आज हमारी इकनोमिक ग्रोथ पंजाब से कहीं ज्यादा है। हमने उससे बड़ा बन कर दिखाया है।

चंडीगढ़ में हमारे अंगद की तरह जमे पांवो को कोई नहीं हटा पाएगा : अनिल विज

विज ने कहा कि पंजाब ने इस मुद्दे को उठाकर शरारत की है। चंडीगढ़ के साथ-साथ एसवाईएल, हिंदी भाषी क्षेत्र भी हमारे बड़े मुद्दे हैं। नई राजधानी बनाने के लिए आर्थिक मदद भी इसी से जुड़ी हुई है। नई राजधानी बनाने के लिए हमें केंद्र से पैसा मिलना चाहिए। जब तक इन सारे मुद्दों का फैसला नहीं होगा, तब तक हरियाणा यहां डटा रहेगा। चंडीगढ़ में हमने अपने पांव अंगद की तरह जमा रखे हैं। उसे कोई नहीं हटा पाएगा। हम चंडीगढ़ में उस समय तक डटे रहेंगे, जब तक हमें एसवाईएल का पानी, हिंदी भाषी क्षेत्र नहीं मिलेंगे, नई राजधानी बनाने के लिए पैसा नहीं मिलेगा, तब तक चंडीगढ़ हमारा है। गलत राजनीतिक सोच और शरारत करने वालों को यह बात समझ जानी चाहिए।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static