किसान आंदोलन के चलते कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस सतर्क

11/25/2020 6:06:03 PM

फरीदाबाद (सूरजमल): तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों के बुधवार को दिल्ली कूच के आह्वान को ध्यान में रखकर फरीदाबाद जिलाधीश यशपाल यादव ने धारा 144 लागू कर दी है। पुलिस ने दिल्ली चलो आह्वान के संबंध में दिल्ली मे प्रवेश करने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए सरकार ने ट्रैवल एडवाइजरी जारी की है, जिसमें बताया गया है कि आगामी 25, 26, 27 नवंबर को फरीदाबाद से दिल्ली में प्रवेश करने वाले स्थानों पर यातायात-अवरोधों का सामना करना पड़ सकता है। बदरपुर बॉर्डर सहित दिल्ली से आने-जाने वाले सभी मार्गों पर पुलिस तैनात कर दी गई है। इतना ही नहीं बुधवार सुबह से ही लोगों को पूछताछ के बाद ही दिल्ली में प्रवेश करने दिया जा रहा है। खासकर समूह में जाने वालों को रोका जा रहा है।

जिलाधीश ने कहा है कि एक साथ चार या इससे अधिक लोगों के दिल्ली की तरफ जाने पर मनाही है। किसान आंदोलन के मद्देनजर फिलहाल दिल्ली-फरीदाबाद बॉर्डर को सील नहीं किया गया। अभी वाहनों को आवागमन जारी है, ताकि लोगों को परेशानी न हो। 

बताया जा रहा है कि किसान दिल्ली जाने के लिए सुबह जल्दी नहीं, बल्कि दोपहर तक बॉर्डर पर पहुंचने की संभावना है। बॉर्डर पर पुलिस ने हर स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं। बेरिकेट्स से लेकर वाटर कैन की व्यवस्था की है। दंगा रोधी वाहन और रैपिड ऐक्शन फोर्स भी तैनात की गई है। 

डॉ. अर्पित जैन डीसीपी मुख्यालय ने बताया कि इन प्रबंधों का प्राथमिक उद्देश्य जिले में कानून और व्यवस्था बनाए रखना, किसी भी प्रकार की हिंसा को रोकने व सार्वजनिक शांति बनाए रखने, यातायात व सार्वजनिक परिवहन प्रणालियों के कामकाज को सुविधाजनक सुनिश्चित करना है।

डॉ. अर्पित जैन ने इस संबंध में फरीदाबाद में लगाई गई पुलिस ड्यूटियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि फरीदाबाद के बॉर्डर एरिया में पुलिस तैनात रहेगी जो किसी भी प्रकार कि प्रशासनिक व्यवस्था को बनाए रखना सुनिश्चित करेगी। एनएच-2 पर बदरपुर बॉर्डर, थाना पल्ला एरिया से जैतपुर बॉर्डर, सूरजकुंड शूटिंग रेंज बॉर्डर, फरीदाबाद से गुडग़ांव रोड पर मागर से दिल्ली फतेहपुर में एंट्री करने वाले बॉर्डर पर इसके अलावा पलवल की तरफ से फरीदाबाद में एंट्री प्वाइंट सीकरी बॉर्डर पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। 

उन्होंने बताया कि फरीदाबाद के सभी जोनों के प्रभारी जोन के पुलिस उपायुक्त होंगे, जिनकी सहायता के लिए जोन के सहायक पुलिस आयुक्त रहेंगे। इसके साथ ही जिला प्रशासन की तरफ से ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी मौजूद रहेंगे। जोन के सभी थाना प्रबंधक अधिकतम पुलिस बल के साथ मौजूद रहेंगे जो किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए उपस्थित होंगे।


Shivam

Related News