भटूरे छोले और फ्रूट की रेहड़िया लगाकर PTI टीचरों ने जताया रोष, किया प्रदर्शन

7/26/2020 4:03:25 PM

यमुनानगर(सुरेंद्र मेहता): हरियाणा के बर्खास्त पीटीआई टीचरों ने अपने विरोध करने का आज नया तरीका अपनाते हुए भटूरे छोले, चाय, नींबू पानी एवं फ्रूट की रेहड़िया लगाकर अपना रोष प्रकट किया। इन बर्खास्त पीटीआई टीचरों का कहना है कि सरकार ने उनकी नौकरी छीन ली अब उनके पास रेहड़ी लगाने के इलावा कोई चारा नहीं बचा। यमुनानगर के जिला सचिवालय के आसपास बर्खास्त पीटीआई टीचरों ने कई रेहड़िया लगाकर अपना रोष प्रकट किया।

 यमुनानगर जिला सचिवालय के सामने आज कुछ अलग नजारा था। यहां एक तरफ जहां बर्खास्त पीटीआई टीचर अपने क्रमिक अनशन को जारी रखे हुए थे वहीं दूसरी तरफ विभिन्न पीटीआई टीचरों ने अलग-अलग रेहड़िया लगाई हुई थी। कोई अपनी रेहड़ी पर पपीते बेच रहा था तो कोई गोलगप्पे बेच रहा था और किसी ने छोले भटूरे की   रेहड़ी लग्ग  रखी थी तो किसी ने नींबू पानी की रेहड़ी लगाई हुई थी। रेहड़ी लगाने वाले टीचरों ने कहा कि सरकार ने उन्हें बर्खास्त करके रेहड़ी लगाने पर मजबूर कर दिया है।

बर्खास्त टीचरों के समर्थन में विभिन्न अध्यापक संगठन भी खुलकर सामने आ रहे हैं। हरियाणा राजकीय अध्यापक संघ के अध्यक्ष प्रदीप सरीन ने अपनी पूरी टीम के साथ क्रमिक अनशन स्थल पर पहुंचकर अध्यापकों को पूरा समर्थन देते हुए सरकार के निर्णय की कड़ी आलोचना की। उन्होंने बर्खास्त टीचरों को तुरंत बहाल किए जाने की मांग की । जिला सचिवालय के सामने इस नजारे को देखने और रेडियो से फल फ्रूट गोलगप्पे खरीदने कई लोग पहुंचे। पीटीआई टीचरों का यह अनोखा प्रदर्शन चर्चा का विषय बना रहा।


Isha

Related News