खुलासा: आरोपियों ने जिंदा रौनक को डाल लिया था बोरी में, ग्रामीणों ने बताया कैसे रची थी मासूम की हत्या की साजिश

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 05:41 PM (IST)

पानीपत (सचिन) : पानीपत पुलिस ने बराना गांव के मासूम रौनक के हत्यारों को जेल भेज दिया है, लेकिन मासूम की हत्या से आज भी ग्रामीणों और परिजनों का गुस्सा शांत नहीं हुआ है। आरोपियों की पहचान गांव बराना निवासी विनोद पुत्र अंग्रेज व संजय पुत्र नरेश के रुप में हुई है। आरोपी विनोद मृतक रौनक के पिता का साझेदारी किसान है। आरोपी संजय राजमिस्त्री है।

PunjabKesari

पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया है कि दोनों ने चढ़े कर्ज को उतारने के लिए योजना बना बच्चे का अपहरण किया था। बाग में ले जाकर उसकी हत्या की। हत्या करने के बाद घेर में चिट्‌ठी फेंक 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। 

ग्रामीणों का कहना है कि ऐसे अपराधियों को मौके पर ही गोली मार देनी चाहिए या फांसी की सजा दे देनी चाहिए। वहीं ग्रामीणों ने करनाल के इंद्री में हुए जस हत्याकांड को लेकर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अगर जस हत्याकांड के आरोपियों को फांसी या गोली मारने जैसी सख्त सजा दी जाती तो शायद रौनक हत्याकांड देखने को नहीं मिलता। 

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि आरोपियों ने मासूम रौनक को योजनाबद्ध तरीके से अपहरण कर 15 लाख रुपए लेने की साजिश रची थी। ग्रामीणों ने कहा कि आरोपी रौनक को घर से आम खिलाने के बहाने खेत में लेकर गया था। उनका कहा है कि जब रौनक आम खाकर घर की तरफ जाने लगा तो उन्होंने उसको रोक लिया। जब रौनक घर जाने के लिए जिद करने लगा, उन्होंने उसको थप्पड़ मारे। इतने में ट्रैक्टर की आवाज आई तो रौनक ने पापा को आवाज लगाई जिससे आरोपियों को लगा कि रौनक का पापा आ गया। जिस डर से उन्होंने जिंदा रौनक को बोरी में डाल लिया था,जिसके बाद भी बोरी के अंदर से रौनक की आवाज बाहर आई तो उन्होंने उसके साथ बेरहमी से मारपीट की और गला दबा दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। 

आपको बता दें कि बीते 3 दिन पहले पानीपत जिले के गांव बराना से 8 साल के मासूम का अपहरण कर 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी, जिसके 2 दिन बाद मासूम रौनक का शव घर से करीब 100 मीटर दूर तालाब में बोरी में बंद पड़ा मिला। हालांकि पुलिस ने इस मामले में जल्द ही 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static