मातम में बदली खुशियां, बहन की शादी का कार्ड देने गए दो भाईयों की दर्दनाक मौत

1/20/2020 4:45:58 PM

चरखी दादरी: बहन की शादी का कार्ड देने जा रहे कार सवार दो ममेरे भाइयों की सड़क हादसे में मौत हो गई। उनकी कार एक वाहन की साइड लगने के बाद अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े पेड़ से टकरा गया। मृतकों की पहचान झज्जर जिले के गांव सिवाना निवासी कृष्ण (20) और जींद के गांव रामकली निवासी अनिल (8) के रूप में हुई है। मृतक कृष्ण की बड़ी बहन की 31 जनवरी को शादी है। बाढड़ा थाना पुलिस ने रविवार दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद शव मृतकों के परिजनों को सौंप दिए और इस संबंध में अज्ञात वाहन चालक पर मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस बयान में सिवाना निवासी श्रीभगवान ने बताया कि वह अपने बेटे कृष्ण और साले के बेटे अनिल के साथ अपनी ऑल्टो कार में सवार होकर शनिवार शाम कादमा और बडऱाई गांवों में बेटी की शादी का कार्ड देने आया था। श्रीभगवान ने बताया कि वह एक जगह पर कार्ड देने के लिए कार से उतर गया और उसका बेटा और साले का बेटा कार में सवार होकर आगे कार्ड देने के लिए चल पड़े। वो करीब 100 मीटर भी नहीं चले थे कि इसी दौरान सामने से आ रहे एक वाहन ने कार को साइड मार दी। 

कार पर चालक कृष्ण नियंत्रण नहीं रख पाया और अनियंत्रित कार पेड़ से जा टकराई। घटना में कार सवार ममेरे भाइयों की मौके पर ही मौत हो गई। देर शाम हुए हादसे की सूचना मिलते ही बाढड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को अपने कब्जे में लेकर चरखी दादरी सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवाया। पुलिस ने रविवार सुबह कृष्ण के पिता श्रीभगवान के बयान पर अज्ञात चालक के खिलाफ मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है।

पांच साल से फूफा के पास सिवाना रह रहा था अनिल
हादसे में आठ वर्षीय मासूम अनिल की भी मौत हो गई। अनिल जींद के रामकली गांव का रहने वाला था। वह पिछले पांच सालों से सिवाना में अपने फूफा श्रीभगवान के पास ही रह रहा था। वह दूसरी कक्षा में पढ़ता था जबकि उसका ममेरा भाई कृष्ण बीए द्वितीय वर्ष का छात्र था।

संदीप कुमार, हेड कांस्टेबल, बाढड़ा थाना ने कहा कि सिवानी निवासी श्रीभगवान के बयान पर अज्ञात चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और जल्द ही आरोपी चालक का पता लगाकर उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 


Edited By

vinod kumar

Related News