छह माह बाद हरियाणा में खुले स्कूल, कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पुख्ता इंतजाम

9/21/2020 12:00:12 PM

डेस्क: कोरोना का कहर ऐसे बरपा जैसे मानों सब कुछ सिमट सा गया हो, लेकिन अब धीरे धीरे सब कुछ खुलने लगा है। हरियाणा में लंबे अंतराल के बाद आज स्कूल खुले। शिक्षा विभाग के दिशा निर्देशों के मुताबिक आज से नौवीं कक्षा से 12वीं कक्षा तक के स्कूल खोले गए। स्कूलों ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए पुख्ता इंतजाम किए हैं। 

PunjabKesari, haryana

सोनीपत (पवन राठी): कोरोना महामारी के बीच सोनीपत में आज स्कूल खुल गए। सभी स्कूल कोरोना को लेकर सावधानी बरत रहे हैं। स्कूल में प्रवेश द्वार पर निजी स्कूलों में ऑटोमेटिक थर्मलस्क्रीनिंग व सैनेटाइजर मशीन लगाई गई है। स्कूल खुलने पर प्रशासन भी सतर्क हो गया है। स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन द्वारा स्कूलों पर पैनी नजर रखी जा रही है। 

चरखी दादरी (नरेंद्र): चरखी दादरी में 6 महीने बाद स्कूल खुले। लंबे से स्कूलों में सन्नाटा पसरा हुआ था, लेकिन अब स्कूल खुलने से फिर रौनक लौट आई है। बता दें कि स्कूल में बच्चे केवल अपने संबंधित अध्यापक से परामर्श व समस्या के लिए आ सकते हैं। स्कूल आने से पहले सभी बच्चे मास्क लगाकर आएंगे। इसके साथ-साथ शारीरिक दूरी के नियमों की पालना करनी होगी। विद्यालय में ज्यादा भीड़ इकट्ठी ना हो। इसके लिए विद्यालय मुखिया सभी प्रकार का प्रबंध करेंगे। 

PunjabKesari, haryana

सभी बच्चे और अभिभावक कोरोना महामारी से डरे हुए हैं कि ऐसे में कैसे अपने बच्चों को स्कूल भेजे, लेकिन धीरे-धीरे स्कूल में आना अब बच्चों का शुरू हो गया। केवल 9वीं से 12 क्लास के बच्चों को ही बुलाया गया है। स्कूल संचालकों ने अभिभावकों से विशेष आग्रह किया है कि वे पीने के पानी की बोतल भी घर से साथ लेकर आएं। 

जींद (अनिल कुमार): जींद में लंबे अंतराल के बाद स्कूलों में रौनक लौटी। सुबह छात्र स्कूलों में पहुंचे। सभी स्कूलों में कोविड के तहत दी गई गाइडलाइन का पालन किया जा रहा है। बता दें कि अभी जो क्लासेस स्कूलों में लगेंगी उनमें सिर्फ डाउट क्लियर करने के लिए ही बच्चों को बुलाया जाएगा। एक क्लास में मात्र 20 से 25 विद्यार्थी ही सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठेंगे। अभी स्कूलों में सिर्फ सुबह 9:00 बजे से 12:00 बजे तक ही एक-एक बच्चे का डाउट क्लियर करवाया जाएगा।

बच्चे बोले 6 महीने की घर वाली कैद से मिली आजादी
रेवाड़ी (महेंद्र भारती): 
खुल गए स्कूल लग गई पाठशाला। कोरोना प्रोटोकॉल का ख्याल रखते हुए स्कूल में एंट्री करने से पहले छात्रों के साथ-साथ स्कूल स्टॉफ को भी सैनिटाइज व थर्मल स्कैनिंग की जा रही है। सोशल डिस्टेंसिंग रखने के लिए स्कूल के मुख्य द्वार पर गोल घेरे बनाएं गए। थर्मल स्कैनिंग के दौरान ज्यादा तापमान वाले छात्रों की स्कूल में एंट्री नहीं की गई। अध्यापकों ने बताया कि ग्रुप के हिसाब से बच्चों को दो शिफ्टों में बुलाया गया है। स्कूल परिसर को आज के लिए तैयार किया गया था। बेंचों पर भी एक बच्चे को ही बैठाया गया है। 


vinod kumar

Related News