हत्यारिन मां के गुनाहों से बेटे ने उठाया पर्दा, बोला- मैंने पूछा दीदी को क्यों मार रही हो, तो बोली मारना जरूरी है

punjabkesari.in Saturday, Aug 13, 2022 - 04:52 PM (IST)

यमुनानगर (सुमित): श्री दरबार साहिब में बच्ची का शव रखकर फरार हुई महिला को राजपुरा पुलिस ने कल पकड़ लिया था।  महिला चालाकी से राजपुरा में बच्ची के गुम होने की शिकायत दर्ज करवा रही थी। लेकिन शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की तरफ से तस्वीरें व वीडियो वायरल किए जाने के बाद महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पूर घटना के वक्त मृतक बच्ची का भाई अपनी मां के साथ रहा, जिसने कातिल मां की सारी कहानी पुलिस को बताई।  

PunjabKesari

प्रेमी के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट
जानकारी के मुुताबिक मनिंदर कौर हरियाणा में यमुनानगर की रहने वाली है और वह बुधवार को ही अपने बेटे-बेटी को लेकर अमृतसर आई थी। मां ने बड़ा खुलासा किया है कि उसने ही अपनी तीन साल की बेटी को अपने प्रेमी के साथ मिलकर मौत के घाट उतारा है। वह तीन घंटे तक अपने मृतक बेटी को गोद में लेकर गोल्डन टेंपल में घूमती रही। 

3 घंटे तक मृतक बेटी को गोद में लेकर घूमती रही कातिल मां 
बता दें कि बेटी की हत्या के बाद महिला 3 घंटे तक मृतक बेटी को गोद में लेकर गोल्डन टेंपल में घूमती रही। मौका देखकर महिला श्री दरबार साहिब के पास बने प्लाजा में बच्ची के शव रखकर फरार हो गई।इसके बाद बच्ची का शव मिलने से हड़कंप मच गया। बच्ची की बॉडी मिलने की सूचना SGPC के पास पहुंची। एसजीपीसी ने इसके बाद गोल्डन टैंपल प्लाजा और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला। कैमरे बच्ची को गोद में लिए हुए महिला घूमती नजर आई। बच्ची का मुंह ढंका हुआ था और उसके शरीर में कोई हरकत नहीं थी। महिला के साथ उसका सात साल का बेटा भी था। एक अन्य कैमरे की फुटेज में यही महिला बड़े बैग के साथ भी दिखी लेकिन उस समय उसके पास बच्ची नहीं थी।

PunjabKesari

क्या कहना है भाई का 
बच्चे का कहना है उसने अपनी मां से कहा की दीदी को मत मारो, लेकिन मां कह रही है कि मारना जरूरी है। गुरुवार दोपहर में उसने बेटी दीपजोत कौर का गला घौंटकर उसे मौत की नींद सुला दिया, जिसके बाद उसकी बॉडी को वहीं छोड़कर फरार हो गई अमृतसर से मनिंदर कौर राजपुरा पहुंची और वहां पुलिस के पास पहुंचकर बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने की कोशिश की।  राजपुरा पुलिस ने शक के आधार पर मनिंदर कौर को पकड़ लिया। वहीं बहन के कत्ल का भाई गवाह बना। बोला मां ने अंकल के साथ मिलकर बहन को मौत के घाट उतारा है। 

पिता को सौंपी गई बच्ची की लाश 
शनिवार को अमृतसर में ढाई साल की दीपजोत कौर का पोस्टमार्टम करने के बाद उसकी बॉडी पिता कुलविंदर सिंह को सौप दी गई है। कुलविंदर सिंह ने दोनों बच्चों के लापता होने पर 10 अगस्त को यमुनानगर थाने में शिकायत दी थी। इसकी FIR वहां दर्ज है। अब इस मामले की जांच यमुनानगर पुलिस करेगी। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static