अकाउंट मैनेजर ने दी जान, सुसाइड नोट में बताई मरने की वजह

punjabkesari.in Thursday, Jun 24, 2021 - 09:55 AM (IST)

फरीदाबाद (ब्यूरो) : एक व्यक्ति ने बुधवार को ट्रेन से कटकर जान दे दी। जीआरपी थाना पुलिस ने मृतक के पास मिले सुसाइट नोट के आधार पर एक महिला व एक पुरुष के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है। मृतक की पहचान सेक्टर-16 निवासी रविन्द्र शर्मा के रूप में हुई है।     

मृतक के पुत्र लक्ष्य कुमार ने स्वास्तिक एयर कंडिशन सैक्टर-17 के मालिक शलैन्द्र शर्मा और उसकी पीए नीरु के खिलाफ रिपोर्ट की थी कि मेरे पिता रविन्द्र शर्मा स्वास्तिक एयर कंडिशनर सैक्टर-17 मार्किट फरीदाबाद मे बतौर अकाउंट मैनेजर पिछले करीब 16 साल से काम करते थे। जो पिछले 16 साल से मेरे पिता ने इस फर्म के लिए बडी मेहनत व ईमानदारी से काम किया। इसी फर्म में काम करने वाली नीरू के उकसाने पर मालिक शैलेन्द्र शर्मा ने तथा खुद नीरू ने मेरे पिता को तंग व प्रताडित करना शुरु कर दिया। जिससे तंग आकर मेरे पिता ने गुस्से में 11 मार्च 2021 को शैलेन्द्र शर्मा को नौकरी छोडने के लिए कह दिया था।

लेकिन बाद मे मेरे पिता ने मालिक शैलेन्द्र शर्मा से कई बार माफी मांग ली लेकिन उसके बावजूद भी शैलेन्द्र शर्मा ने मेरे पिता से कह दिया कि अपना काम निपटा लो और साथ-साथ दूसरी नौकरी भी ढूढते रहो। जो लॉकडाउन की वजह से मेरे पिताजी को कही दूसरी जगह नौकरी नहीं मिली और शैलेन्द्र शर्मा तथा नीरु आए दिन मेरे पिता को प्रताड़ित करने लगे तथा नौकरी से निकालने की धमकी देने लगे। 4 दिन पहले शैलेन्द्र शर्मा और नीरू ने मेरे पिताजी को नौकरी से निकाल दिया और 16 साल का हिसाब देने से भी मना कर दिया। जो मेरे पिता जी पिछले 4 दिन से मानसिक रुप से बहुत परेशान थे जिसकी वजह से मेरे पिताजी ने 22 जून को ओल्ड़ रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के आगे आकर आत्महत्या कर ली है। 

सुसाइड नोट में लिखा : मैं एक बुजदिल इंसान हूं मुझे माफ कर देना 
जीआरपी को मृतक रविन्द्र की जेब से मिले सुसाइड नोट में उसने मौंत का जिम्मेवार शैलेन्द्र शर्मा व नीरू को बताया है। उसमें कहा गया कि मेरा नाम रविन्द्र सिह है मैं मकान न0 2397 सैक्टर-16 का निवासी हूं। मै आजकल अपनी नौकरी की वजह से बहुत परेशान हूं। मैं स्वास्तिक ऐयर कंडिशन कम्पनी मे अकाउंट मैनेजर पद पर कार्यरत हूं। मेरे मालिक शैलेन्द्र शर्मा ने 16 साल नौकरी करने के बाद नीरू शर्मा के बहकाने की वजह से मुझे नौकरी से निकाल दिया है। अब उम्र के इस पडाव में मुझे नौकरी ढूढने में बहुत दिक्कत आ रही है। इसलिए मै बहुत दिमागी रुप से परेशान चल रहा हूं। समझ नहीं आ रहा क्या करूं और क्या न करूं। इसलिए आत्महत्या का निर्णय ले रहा हूं। आत्महत्या नीरू शर्मा और शैलेन्द्र शर्मा की वजह से ही करनी पड रही है। मेरे दोनों बच्चे बहुत होनहार है। सपना जी अब आपके जिम्मे रानू और नोनी को छोडकर जा रहा हूं। अब आप सब एक दूसरे का ध्यान रखना मैं एक बुजदिल इंसान हूं। इसके लिए सब मुझे माफ कर देना। रानू, नोनी तुम दोनों खूब मन लगाकर अपनी पढ़ाई करना बेटा मैं अब हार गया हूं। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static