समाज से नशे को जड़ से मिटाने के लिए बच्चों को बनाना होगा संस्कारवान : मनोहर लाल

punjabkesari.in Monday, Dec 04, 2023 - 08:50 AM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी) : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि समाज से नशे को जड़ से मिटाने के लिए बच्चों को संस्कारवान बनाना होगा। इस कार्य में अभिभावक तथा सामाजिक संस्थाएं अहम भूमिका अदा कर सकती हैं। मनोहर लाल ने रविवार को जिला हिसार में गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय सनातन महासंघ के संस्थापक स्वामी धर्मदेव द्वारा आयोजित युवा सम्मेलन में उपस्थित विशाल जन समूह को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार भी नशा मुक्त हरियाणा बनाने के लिए विशेष प्रयास कर रही है और इस अभियान में सामाजिक संस्थाओं का भी सहयोग लिया जा रहा है। नशामुक्ति की दिशा में किए जा रहे हमारे प्रयास निश्चित तौर पर स्वच्छ समाज की स्थापना के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित होंगे।

सीएम ने कहा कि सनातन महासंघ द्वारा देश में जो नशा मुक्ति, मातृ-पितृ वंदन, असहाय का सहयोग तथा दृढ़ अनुशासन का पांच सूत्रीय कार्यक्रम चलाया जा रहा है, यह युवाओं के उत्थान में काफी कारगर साबित होगा। उन्होंने कहा कि किसी भी समाज के निर्माण में युवाओं का महत्वपूर्ण योगदान है, लेकिन कुछ युवा नशे के जाल में फँस रहे हैं, हमें युवाओं की ऊर्जा को सकारात्मक तरीक़े से इस्तेमाल कर मजबूत भारत की नींव रखनी होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 5 मई को नशे के खिलाफ एक मजबूत लड़ाई लड़ने का हमने संकल्प लिया। हमारे इस अभियान में निरंकारी मिशन ने जुड़कर युवाओं के लिए विशेष कार्यक्रम चलाया है। हमें सबसे पहले नशे के खिलाफ युवाओं को जागरूक करना होगा। नशे में फंसे युवाओं के डि-एडिक्शन और रिहेबिलिटेशन के लिए सरकार पूरी गंभीरता के साथ काम कर रही है।

मनोहर लाल ने कहा कि नशे की सप्लाई चैन तोड़ने के लिए खास रणनीति के तहत कार्य किया जा रहा है। पंचकूला में नशे के खिलाफ आठ राज्यों का संयुक्त हेडक्वार्टर बनाया गया है। इसी साल हरियाणा में 140 करोड़ रुपये से अधिक की नशे की खेप को सरकार ने नष्ट किया है। उन्होंने कहा कि हमें स्वामी विवेकानंद के सिद्धांतों से प्रेरणा लेकर युवा शक्ति को तैयार करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा के 2 करोड़ 80 लाख लोगों को अपना परिवार मानकर सरकार निरंतर कार्य कर रही है। अंत्योदय की भावना से चलायी गई योजनाओं के सहारे अंतिम व्यक्ति तक सरकारी योजनाओं व सुविधाओं का लाभ पहुँचाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2047 तक विकसित भारत की श्रेणी में देश को लाने का लक्ष्य रखा है। इसी कड़ी में विकसित भारत जन संकल्प यात्रा का अभियान चलाया गया है। इस यात्रा के माध्यम से अभी तक योजनाओं से वंचित लोगों को उनके घर द्वार पर जाकर लाभ दिया जा रहा है। सुशासन की दिशा में एक और कदम उठाते हुए राज्य सरकार ने मिशन कर्मयोगी आरंभ किया है। इसके तहत विशेष प्रशिक्षक तैयार करके सरकार के विभिन्न विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को नैतिकता व आचरण के साथ-साथ कार्यशैली में सुधार करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यक्रम से पहले मुख्यमंत्री ने नशे के खिलाफ जागरूकता को लेकर सर्व कल्याण मंच हरियाणा द्वारा चलाई गई यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Recommended News

Related News

static