कृषि कानूनों के खिलाफ 3 नवम्बर को पूरे देश में होगा चक्का जाम: चढूनी

punjabkesari.in Friday, Oct 09, 2020 - 12:12 PM (IST)

कुरुक्षेत्र : केंद्र सरकार द्वारा बनाए किए 3 कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर के 24 किसान संगठनों की कुरुक्षेत्र में बैठक आयोजित हुई। गुरुवार देर सायं तक चली बैठक में अध्यक्षता कर रहे गुरनाम सिंह चढूनी ने ऐलान किया कि कृषि कानूनों के खिलाफ 3 नवम्बर को पूरे देश में चक्का जाम किया जाएगा। बैठक में हरियाणा, पंजाब, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र सहित अन्य प्रदेशों के सक्रिय किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। भारतीय किसान संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी.एम. सिंह ने बैठक उपरांत मीडिया से बातचीत में कहा कि कुरुक्षेत्र में बैठक बुलाई गई थी, जिसमें यह तय किया गया है कि 3 नवम्बर को किसान चक्का जाम करेंगे।

3 नवम्बर को सुबह 10 से शाम 4 बजे तक देशभर में हाईवे जाम रखे जाएंगे और आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए शुक्रवार को पंजाब में बैठक बुलाई गई है, जिसमें तय किया जाएगा की 3 नवम्बर के बाद क्या रणनीति बनानी है। गौरतलब है कि 3 नवम्बर को हरियाणा में बरौदा उपचुनाव के लिए मतदान होना है और उसी दिन किसान संगठनों द्वारा चक्का जाम की घोषणा का सीधा असर उपचुनाव पर पडऩा लाजिमी है। अगर ऐसा होता है तो राजनीतिक हलकों में हड़कंप मचना संभावित है क्योंकि सत्तासीन भाजपा एवं विपक्षी पाॢटयां इस चुनाव के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा रही है। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक वी.एम. सिंह ने बताया कि देश में किसानों के मुद्दे को लेकर एक आंदोलन खड़ा किया जाएगा ताकि किसानों की लड़ाई एकजुट होकर लड़ी जा सके। पंजाब मेंं 9 अक्तूबर को ही बैठक होगी जिसमें आगामी निर्णय लेने के लिए जगह व तरीख का ऐलान किया जाएगा। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static