रेलवे कर्मचारी को ब्लैकमेल कर 65,000 रुपए ऐंठने के आरोपी महिला-पुरुष दबोचे

11/17/2019 1:56:01 PM

नारनौल (संतोष): स्टेशन पर तैनात आर.पी.एफ . में तैनात कर्मचारी से सतनाली क्षेत्र की महिला व आगरा (उत्तर प्रदेश) निवासी आरोपी विशाल पुत्र हरिकिशन द्वारा बलात्कार जैसे झूठे मुकद्दमे में फंसाने का भय दिखाकर रुपए ऐंठने के आरोप में थाना शहर नारनौल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। शनिवार को एक आरोपी को नारनौल कोर्ट में पेश कर 2 दिन के रिमांड पर लिया है। आरोपी महिला को पहले ही 14 नवम्बर को गिरफ्तार कर 5 दिन के रिमांड पर लिया हुआ है। रिमांड के दौरान ब्लैकमेल करके ऐंठे गए 65,000 रुपए व जिस फोन से कॉल करके रुपए मांगे थे, वे बरामद किए जाएंगे। 

पुलिस प्रवक्ता नरेश कुमार ने बताया कि पुलिस ने ऐसे रैकेट को पकड़ा है जो लोगों को फांसकर ब्लैकमेल करता है। इसी प्रकरण में गत 2 नवम्बर को नारनौल रेलवे पुलिस में तैनात कर्मचारी अपनी पत्नी के साथ कार्यालय में आकर एस.पी. दीपक सहारन से मिला।  कर्मचारी की पत्नी ने लिखित शिकायत पुलिस को दी। महिला ने आरोप लगाया कि सतनाली क्षेत्र की महिला व उत्तर प्रदेश निवासी विशाल उसके पति को बलात्कार के झूठे मुकद्दमे में फंसाने का भय दिखाकर रुपए ऐंठना चाहते हैं। वे अब तक 65,000 रुपए ले चुके हैं। 
इसके कारण उसका पति मानसिक रूप से प्रताडि़त हो रहा है जोकि आमतौर पर ङ्क्षचता में रहता है।  शिकायत के बाद एस.पी. ने मामला ब्लैकमेल का होने पर मुकद्दमा दर्ज करवाकर आरोपियों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए।

इस तरह की ब्लैकमेलिंग
कर्मचारी ने बताया कि वे नारनौल में तैनात हैं। वह करीब 2 वर्ष पूर्व रेलवे स्टेशन पर ड्यूटी कर रहा था। तब एक महिला व उसका पिता उसके पास आया व कहने लगा कि वे मुम्बई जाना चाहते हैं। उनका टिकट नहीं बन पाया है इसलिए उनकी मदद करें। उस समय गाड़ी के टी.टी. से कहा कि इस लड़की को मुम्बई जाना है। इसकी टिकट बनाकर सीट दिलवा देना। यहां से जाते-जाते लड़की के पिता ने कहा कि बेटी! अपने अंकल का मोबाइल नम्बर ले लो। रास्ते में कोई दिक्कत आए तो इनको कह देना। उस दिन से लड़की कई बार उसके फोन पर बात करने लगी। एक बार उसने उसके साथ वीडियो कॉङ्क्षलग करके स्क्रीन शॉर्ट ले लिया। उस समय वह कपड़े निकालकर सोने की तैयारी में था। वह कई बार वीडियो कॉङ्क्षलग करती रही।

6 महीने बाद लड़की के दोस्त विशाल का फोन आया व कहा कि उसके खिलाफ  लड़की को छेडऩे व बलात्कार की कोशिश का मुकद्दमा दर्ज करवाकर उसे बदनाम किया जाएगा। इससे बचने के लिए उससे 10 लाख रुपए की मांग की तथा धमकी दी कि यदि उसने रुपए नहीं दिए तो उसे जेल करवाएगी। जेल के नाम पर वह घबरा गया तथा कहा कि उसके पास 10 लाख नहीं हैं। आखिर में वे 2 लाख रुपए तक आ गए। उसने उनको अलग-अलग समय में कुल 65,000 रुपए दे दिए। उक्त पूरी बात उसने अपनी पत्नी को बताई।


Isha

Related News