बारिश के कारण यमुना नदी फिर उफान पर, हरियाणा, यूपी व दिल्ली में अलर्ट घोषित

punjabkesari.in Wednesday, Jul 28, 2021 - 02:33 PM (IST)

यमुनानगर(सुमित/सुरेन्द्र): यमुनानगर के हथनीकुंड बैराज से एक बार फिर यमुना के उफान पर आने के कारण डेढ़ लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। हरियाणा के साथ लगते यमुना के विभिन्न जिलों में बाढ़ के हालात पैदा हो सकते हैं। इसी कारण दिल्ली में भी यमुना का जलस्तर बढ़ सकता है। इस कारण  हरियाणा, यूपी व दिल्ली के साथ लगते यमुना के इलाकों में अलर्ट घोषित किया गया है ।  

19 अगस्त 2019 यमुना में रिकार्ड 8 लाख28 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था, लेकिन उससे बाद 2020 में यमुना में एक बार भी इतना पानी नहीं आया कि  बैराज के गेट खोलने पड़े।  बैराज के गेट को 70 हजार से अधिक पानी होने के बाद  खोले जाते जिसे मिनी फल्ड कहा जाता है । उसके बाद हरियाणा की विभिन्न नहरो का पानी बंद कर दिया जाता है  और सारा पानी यमुना नदी में छोड़ा जाता है। अभी यमुना में डेढ़ लाख क्यूसेक पानी  छोड़े जाने के बाद हरियाणा सहित  दिल्ली में अलर्ट घोषित किया गया है।


यमुनानगर के उपायुक्त गिरीश अरोड़ा ने बताया कि एसडीआरएफ कि टीम यमुनानगर पहुंच चुकी है उसे अलर्ट पर रखा गया है। इसके इलावा आर्मी से भी संपर्क स्थापित किया गया है। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन तैयार है। उन्होंने कहा कि निचले इलाकों में सूचनाएं भिजवाई जा रहे हैं।  प्रशासन पूरी नजर बनाए हुए है। उन्होने बताया कि बार रोकथाम के लिए पहले से ही सभी कार्य पूर्ण कर लिया गए थे। हरियाणा के  करनाल पानीपत सोनीपत, फरीदाबाद एवं उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भी बाढ़ का खतरा पैदा सकता है। जिसके लिए यमुनानगर जिला प्रशासन ने अन्य जिला के अधिकारियों को इस संबंध में सूचनाएं भिजवा दी है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static