वैलेंटाइन-डे पर लड़की के घर चूड़ा-पंजाबी जूती लेकर पहुंचा प्रेमी, दरवाजा न खोलने पर उठाया ये कदम

punjabkesari.in Monday, Feb 17, 2020 - 11:10 AM (IST)

कुरुक्षेत्र: वैलेंटाइन-डे पर प्रेमिका के घर गिफ्ट देने पहुंचे युवक ने प्रेमिका के परिजनों की ओर से दरवाजा न खोलने से खफा होकर जहरीला पदार्थ निगल जान दे दी। जहरीला पदार्थ निगल युवक प्रेमिका के घर के सामने गली में बेसुध हालत में पड़ा रहा। गंभीर हालत में युवती के परिजनों ने युवक को अस्पताल पहुंचाया, जहां जांच के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। युवक के परिजनों ने प्रेमिका समेत उसके मां-बाप व भाई पर पर आत्महत्या के लिए उकसाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

वहीं लड़की पक्ष इसके लिए युवक के परिजनों को जिम्मेदार मान रहा है। युवती के परिजनों का कहना है, दोनों बच्चे शादी करना चाहते थे, लड़के के माता-पिता इसके लिए राजी नहीं थे। इसके चलते उसने यह कदम उठाया। मृतक की शिनाख्त करनाल के हेमदा गांव निवासी 21 वर्षीय शुभम के तौर पर हुई है। 

युवक के पिता का आरोप- लड़की जबरन बेटे को फोन किया करती थी
शुभम के पिता राजेश कुमार ने बताया उसके चचेरे भाई की शादी कुरुक्षेत्र के केयूके थाना के तहत एक गांव में करीब आठ साल पहले हुई थी। शुभम भी कुरुक्षेत्र स्थित अपने चाचा के ससुराल में आता-जाता था। चाची की छोटी बहन के साथ फोन पर बात होने लगी। करीब सालभर पहले जब उसे पता चला, तो लड़की के घर आया था, साथ ही उसके परिजनों को इस संबंध में बताया था। तब तय हुआ था, कि आगे से दोनों बच्चे आपस में बातचीत नहीं करेंगे। आरोप लगाया, इसके बावजूद लड़की जबरन बेटे के पास फोन करती थी।

बिना बताए कुरुक्षेत्र आया था युवक
राजेश का कहना है, वैलेंटाइन डे को शुभम उन्हें बिना बताए कुरुक्षेत्र उक्त युवती को चूड़ा व पंजाबी जूती देने आया था। आरोप लगाया, जैसे ही वह लड़की के घर पहुंचा, वहां लड़की, उसके भाई, पिता व मां ने मिल कर बेटे को बेइज्जत किया, साथ ही उसे मानसिक प्रताडऩा दी, जिससे परेशान होकर उसने सुसाइड किया। शुभम की मौत के करीब एक घंटे बाद देर शाम लड़की के परिजनों ने फोन पर उन्हें सूचना दी, कि शुभम ने उनके घर के सामने गली में जहरीला पदार्थ निगल लिया है। राजेश का कहना है शुभम उसका इकलौता बेटा था। 

पिता बोले- लड़की वाले शादी को राजी नहीं थे
इधर, लड़के के पिता का कहना है, युवक के परिवार में 8 साल पहले बड़ी बेटी की शादी की थी। रिश्तेदारी होने के चलते युवक भी उनके घर आता-जाता था। करीब 8 माह पहले युवक उनके घर लड़की का हाथ मांगने आया था। तब उसने यह कहकर भेज दिया था कि उसके माता-पिता से बात फाइनल होगी।

लड़की के पिता का कहना है, मैंने खुद शुभम के परिवार से दोनों की शादी की बात की, तो उसके माता-पिता ने शादी से मना कर दिया था। इसके बाद दोनों बच्चों ने फोन पर बातचीत बंद कर दी थी। कब से बच्चे फिर से आपस में बातचीत करने लगे, इस संबंध में उन्हें भी जानकारी नहीं। आरोप लगाया, युवक के परिवार द्वारा बेटी के साथ शादी करने से मना करने के कारण ही शुभम ने यह कदम उठाया। 

लड़की वालों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज 
केयूके थाना प्रभारी सूरज चावला का कहना है, मामला प्रेम प्रसंग का है, अभी तक की जांच में पता चला है युवक वैलेंटाइन डे पर लड़की के घर गिफ्ट देने पहुंचा था, उसके परिजनों ने दरवाजा नहीं खोला, तो जहरीला पदार्थ निगल लिया। मृतक के पिता की शिकायत पर फिलहाल लड़की, उसकी मां, भाई व पिता के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर जांच शुरू की है। छानबीन में जो सच्चाई सामने आएगी उसके आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

vinod kumar

Related News

Recommended News

static