अब मोबाइल एप के जरिए मिलेगा अनारक्षित रेलवे टिकट, लंबी लाइनों में लगने की झंझट से छुटकारा

1/7/2020 10:39:32 AM

अम्बाला छावनी (हरिंद्र) : टिकट लेने के लिए अनारक्षित केंद्र पर लगी लंबी लाइनों से यात्रियों को छुटकारा दिलवाना के मकसद को पूरा करने के लिए अम्बाला मंडल का वाणिज्य विभाग लगातार कार्रवाई कर रहा है। विभागीय अधिकारी व कर्मचारी जहां कैशलैस सुविधा प्रदान करने के साथ-साथ किसी भी प्रकार की कैश के लेन-देन में होने वाली परेशानियों का समाधान भी कर रहे हैं ताकि यात्री यूटसॉनमोबाइल एप का आसानी से इस्तेमाल कर सकें। 

अम्बाला मंडल वरिष्ठ वाणिज्य अधिकारी हरि मोहन ने बताया कि मोबाइल द्वारा टिकट बुकिंग की यह सुविधा उपरोक्त एप द्वारा संभव हुई है जो भारतीय रेलवे की विभिन्न एप में से एक है। इस एप के उपयोग से यात्री अपनी टिकट को स्वयं बुक कर सकता है जो यात्री को पेपरलैस और कैशलैस की सुविधा उपलब्ध करवाता है। इस एप के द्वारा टिकट बुक करने पर यात्री द्वारा करवाए गए रिचार्ज पर 5 प्रतिशत का बोनस भी दिया जाता है।

इस एप के यात्रियों में अधिकाधिक उपयोग व जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से मंडल रेल प्रबंधक गुरिंद्र मोहन सिंह के निर्देश तथा मार्गदर्शन में व वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक के नेतृत्व में अम्बाला मंडल में 7 दिन का जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है जोकि मंडल के सभी बड़े स्टेशनों पर सहारनपुर, अम्बाला, यमुनानगर जगाधरी, राजपुरा, कालका, पटियाला, चंडीगढ़, कालका और बठिंडा स्टेशनों पर 5 से 11 जनवरी तक जारी रहेगा।

इन 7 दिनों के दौरान स्टेशनों पर एक हैल्प डैस्क के माध्यम से यात्रियों को इस एप के उपयोग से परिचित करवाया जा रहा है और इसकी सुविधा व लाभों के बारे में यात्रियों को जागरूक भी किया जा रहा है। स्टेशनों पर इस सम्बंध में पोस्टरों, बैनरों तथा स्टीकर आदि के माध्यम से भी लोगों को इस एप के बारे में अधिक से अधिक सूचना पहुंचाई जा रही है। 

रेलवे अधिकारी ने बताया कि यात्रियों द्वारा इस एप के प्रति जबरदस्त सकारात्मक प्रतिक्रिया दिख रही है और लगभग सभी बड़े स्टेशनों ए और ए-वन स्टेशनों पर एप के प्रचार के दौरान एप को डाऊनलोड करने वाले यात्रियों की संख्या में सराहनीय वृद्धि हुई है। अम्बाला मंडल स्तर पर इस एप के उपयोग में पिछले वर्ष की की तुलना में 3 गुना तक की सकारात्मक वृद्धि दर्ज की जा रही है जो इस एप के प्रति लोगों के जबरदस्त उत्साह का प्रतीक है।

 


Isha

Related News