उपभोक्ताओं से बिजली बिल के पैसे लेकर थमा देते थे फर्जी रसीद, ऐसा करके 55 लाख गबन कर गए कर्मचारी

10/15/2020 5:45:58 PM

कैथल (सुखविंद्र सैनी): बिजली निगम के पूंडरी सर्कल में बिजली बिलों के नाम पर उपभोक्ताओं को नकली रसीद थमाकर 55 लाख रुपये का गबन करने का मामला सामने आया। मामला सामने आने पर कंपनी ने 5 लोगों के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवाया है। 

PunjabKesari, haryana

बिजली बिल भुगतान सुविधा देने के लिए ई-पे नामक कंपनी ने पूंडरी में बिजली बिल भुगतान सेवा देने का कांट्रैक्ट लिया हुआ था। कंपनी के रीजनल मैनेजर अशोक कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनकी कंपनी ई पे इंफोसर्वे प्राइवेट लिमिटेड व उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम का अनुबंध सन 2013 से है। ई पे कम्पनी कैथल समेत हरियाणा के 10 जिलो में बिजली बिल भुगतान सुविधा देने का कार्य करती है। ई पे ने इस भुगतान सुविधा देने के लिए अपने प्रीपेड रिटेलर मार्केट में और कैशियर्स की नियुक्ति बिजली बोर्ड निगम के दफ्तरों में सरकारी खिड़की पर कर रखी है।  

एक षड्यंत्र के तहत आरोपी पांचों लोगों ने मिलकर 2018 के जुलाई, अगस्त, सितम्बर, अक्टूबर, नवम्बर महीने में फर्जी रसीद कलेक्शन बुक छपवा कर पूंडरी और अन्य 32 गांवों के हजारों उपभोक्ताओं को फर्जी रसीद थमाकर लाखों रुपये गबन कर लिए। अब तक लगभग 55 लाख रुपये के बिजली बिल उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी और गबन की राशि सामने आ चुकी है। गबन और धोखाधड़ी के बारे में जानकारी कंपनी को तब मिली जब दोषियों के धोखाधड़ी किये उपभोकताओ के बिल अगले बिल में जुड़कर आने लगे। 

PunjabKesari, haryana

इस बारे थाना प्रभारी पूंडरी मुकेश कुमार ने बताया की पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच में जूट गई है। कंपनी की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। दोषी पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जांच के बाद ही पूरे मामले का पता चल पाएगा।


vinod kumar

Related News