लाखों की चोरी के बाद आखिरकार जागा प्रशासन, दिन में ही जला डाली बाजार की स्ट्रीट लाइटें

1/14/2020 1:14:32 PM

सिवानी मंडी (पोपली) : फजीहत और चोरी की वारदात के  बाद सिवानी में न.पा. प्रशासन आखिरकार न.पा. प्रशासन जाग गया है। पंजाब केसरी द्वारा शहर की स्ट्रीट लाइटों को लेकर छपी खबर के बाद शहर में न.पा. प्रशासन ने मुख्य बाजार की स्ट्रीट लाइटों को दुरुस्त करवा दिया है। मजे वाली बात तो यह है कि सोमवार को शहर में दिन में वे स्ट्रीट लाइटें जलती मिली, जिनमें लम्बे समय से न.पा. प्रशासन की लापरवाही के कारण रोशनी गायब थी।

गौरतलब है कि पंजाब केसरी समाचार पत्र द्वारा गत 11 जनवरी के अंक में मुख्य बाजार में लगी करीब 40 स्ट्रीट लाइटों में जलती है मात्र 6 नाम के शीर्षक से सचित्र समाचार का प्रकाशन किया गया था। समाचार में स्ट्रीट लाइटें नहीं जलने से बाकायदा चोरी होने का भी जिक्र किया गया था और 11 जनवरी की रात को ही सिवानी के मुख्य बाजार में उस क्षेत्र में चोरी की 2 वारदातें हुईं जहां स्ट्रीट लाइटें बंद थीं। पंजाब केसरी द्वारा चेारी की इस वारदात को भी न केवल पूरी तरह से कवर किया बल्कि न.पा. प्रशासन की लापरवाही का भी जिक्र अगले दिन यानि 13 जनवरी के अंक में प्रकाशित किया।

समाचार प्रकाशन के साथ ही आखिरकार न.पा. प्रशासन जाग गया और सोमवार को ही शहर के मुख्य बाजार में सभी स्ट्रीट लाइटों को दुरुस्त कर दिया गया। पंजाब केसरी द्वारा जन सरोकार को लेकर शुरू की गई इस मुहिम की पूरे शहर में चर्चा रही। लोगों ने साफ कहा कि अगर प्रशासन पंजाब केसरी के समाचार पर अमल करता तो शायद सिवानी के मुख्य बाजार में चोरी की वारदात नहीं होती। लोगों ने कहा कि अब तो सोमवार को शहर में दिन में ही स्ट्रीट लाइटों में न.पा. प्रशासन ने रोशनी कर दी है। उन्होंने पंजाब केसरी टीम द्वारा इस तरह के मुद्दे उठाए जाने पर पूरी टीम को थैंक-यू कहा है। 


Isha

Related News