एक्शन मोड में दिखे अनिल विज, लापरवाही के मामले में दो एसडीओ को किया सस्पेंड

7/22/2021 1:24:06 PM

गुरुग्राम (मोहित): हरियाणा के गब्बर मंत्री कहे जाने वाले गृह मंत्री अनिल विज आज एक फिर एक्शन मोड में दिखे। हरियाणा के गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने बृहस्पतिवार को नगर निगम गुरुग्राम कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। जब सुबह 10 बजकर 25 मिनट पर वे निगम दफ्तर पहुंचे तब तक निगम कमिश्नर मुकेश कुमार आहूजा समेत कई ज्वाइंट कमिश्नर भी कार्यालय से अनुपस्थित थे। अनिल विज ने कार्य में लापरवाही के मामले में दो एसडीओ को सस्पेंड करने, एक एक्सईएन को रिलीव तथा एक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश दिए।

फर्जी बिलों के भुगतान, बारिश के पानी की निकासी के मामले में लापरवाही बरतने सहित अनेक मामलों को लेकर विवादों में घिरे नगर निगम गुरुग्राम के कार्यालय की प्रणाली को देखने अनिल विज सुबह अचानक सेक्टर-34 स्थित निगम मुख्यालय पहुंच गए। उन्होंने निगम के तीनों फ्लोर पर स्थित कार्यालयों का निरीक्षण किया तथा इस दौरान कार्यालय से नदारद मिले दो एसडीओ राकेश शर्मा तथा कुलदीप यादव को मौके पर ही निलंबित करने के आदेश दिए। 

PunjabKesari, Haryana

वहीं छह महीने पुराने एक एस्टीमेट के मामले में एक्सईएन धर्मबीर मलिक को कार्यभार मुक्त करने के निर्देश दे दिए। उन्होंने अकाउंट ब्रांच के सेक्शन ऑफिसर भूपेंद्र सिंह का दो घंटे का वेतन काटने के निर्देश दिए। इसके साथ ही पार्षदों के फर्जी संतुष्टि पत्रों के आधार पर करोड़ों के भुगतान का प्रयास करने वाले एक्सईएन गोपाल कलावत के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाकर नियमानुसार कार्रवाई करने के आदेश भी दिए।

मंत्री के पहुंचने के करीब 20 मिनट बाद निगम कमिश्नर भी कार्यालय पहुंच गए। उस समय अनिल विज कार्यालय का निरीक्षण कर रहे थे। निरीक्षण के दौरान मंत्री अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यप्रणाली से असंतुष्ट नजर आए। उन्होंने निगम कमिश्नर मुकेश कुमार आहूजा से कहा कि सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों का हाजिरी एवं मूवमेंट रजिस्टर होना चाहिए ताकि प्रत्येक कर्मचारी या अधिकारी की मूवमेंट दर्ज हो। उन्होंने कहा कि 20 जुलाई को सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों द्वारा किए गए कार्यों की रिपोर्ट प्रत्येक कर्मचारी के हिसाब से उनके कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें। वह अकाउंट विंग में भी पहुंचे। उन्होंने चीफ अकाउंट ऑफिसर विजय कुमार के कार्य पर संतुष्टि जताई तथा निगम की आय बढ़ाने के रास्तों पर ध्यान केंद्रित करने के निर्देश भी दिए।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Recommended News

static